Skip to content
960x0

झारखण्ड में कोरोना जाँच के नाम पर लूट ! निजी लैब ले रहे 4500 रूपये

tnkstaff

कोरोना संक्रमण के बीच राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने चार निजी लैब को कोरोना की जाँच करने का आदेश जारी किया है. इच्छुक व्यक्ति निजी लैब की सहयता से कोरोना की जाँच करवा सकते है. लेकिन झारखण्ड में कोरोना की जाँच करने वाले निजी लैब पर सियासत शुरू हो गयी है.

Advertisement

Also Read: भारत सरकार ने किसानों के खातों में डालें 18,253 करोड़ रूपये, ऐसे देखें अपने खाते का बैलेंस

दरअसल राज्य सरकार ने पुरे झारखण्ड में चार निजी लैब को कोरोना की जाँच करने की अनुमति दी है. परन्तु जाँच की जो कीमत है वो आम लोगो के साथ-साथ राजनितिक दलों के लोगो को भी रास नहीं आ रहे है. निजी लैब में कोरोना जाँच की कीमत 4500 रूपये राखी गयी है जबकि पडोसी राज्य बिहार में निजी लैब कोरोना की जाँच करने के लिए 2500 रूपये वसूल रही है यानी 2000 का साफ़ अंतर है. ऐसे में राजनीती होना लाजमी है.

Also Read: नीलांबर-पीतांबर जल समृद्धि योजना के तहत पांच वर्षो में 1200 करोड़ खर्च करने की तैयारी में सरकार

झामुमो के विधायक सुदिव्य कुमार ने ट्वीट कर स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता से कहा है की निजी लैब द्वारा जो राशि कोरोना जाँच के निर्धारित की गयी है वो वाजिब नहीं है. मामले को संज्ञान में ले कर स्थिति को नियंत्रण करे. इस महामारी के समय निजी लैब द्वारा मनमाना राशि वसूल करना दुर्भाग्यपूर्ण है. बाबूलाल ने भी मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर इस मामले को उठाया है

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches