Bhagwan Birsa Biological Park

भगवान बिरसा जैविक उद्यान को देश के टॉप दस में शामिल किया गया, विश्वस्तर पर किया जायेगा विकसित

tnkstaff
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

भगवान बिरसा जैविक उद्यान को देश के दस बेहतरीन चिड़याघरों में शामिल किया गया है। अब इस चिड़ियाघर को विश्वस्तर पर विकसित किया जाएगा। केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण ने राज्य के प्रधान मुख्य वन संरक्षक (पीसीसीएफ-वन्यजीव) पीके वर्मा को यह जानकारी दी गयी है।

Advertisement

Also Read: 15 जुलाई के बाद खुल सकते है राज्य भर के हाई स्कूल, विभाग कर रहा है तैयारी

केन्द्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण ने राज्य प्राधिकरण से 24 जून को अपना विजन रखने के लिए ऑनलाइन प्रेजेटेंशन देने को कहा है। इसमें राज्य प्राधिकरण को बताना होगा कि कैसे भगवान बिरसा जैविक उद्यान को अगले दस वर्षों में अंतरराष्ट्रीय मानकों पर तैयार किया जाएगा।

PCCF वर्मा ने बताया कि दिसंबर में देश के सभी राज्यों को अपने-अपने चिड़ियाघरों की विशेषता के साथ प्रस्तुतिकरण देने को कहा गया था। झारखंड से भगवान बिरसा जैविक उद्यान और टाटा जू पर प्रजेंटेशन दिया गया। अपनी अद्वितीय विशेषताओं के कारण बिरसा जैविक उद्यान को देश के टॉप 10 चिड़ियाघरों में चुना गया है।

Also Read: बैठक में नहीं बुलाने पर भड़की मेयर आशा लकड़ा, बोली डीसी जवाब दे नहीं तो जाऊंगी हाईकोर्ट

भगवान बिरसा जैविक उद्यान की विशेषताएं

  • यह पूरी तरह प्राकृतिक वातावरण में विकसित किया गया है
  • जानवरों को एक दूसरे से इस प्रकार अलग रखा गया है कि वह स्वच्छंद होकर रहें
  • स्वस्थ वातावरण के कारण बाघिन सहित अन्य जानवर नियमित प्रजनन कर रहे हैं
  • हाल में बाघिन का दो वर्ष के अंतराल में शावक को जन्म देना चर्चा में रहा
  • हथिनी का अनजान हाथी के बच्चे के साथ प्यार भी सुर्खियों में आया
  • यहां 1400 से अधिक वन्यजीव-पक्षी हैं
  • यह 104 हेक्टेयर वन क्षेत्र में फैला है
  • 83 प्रजाति के जीव-जन्तु हैं यहां
Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Related News

Popular Searches