Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on email
Share on print
Share on whatsapp
Share on telegram

हजारीबाग के टाटीझरिया क्षेत्र की एक नाबालिग छात्रा फेसबुक पर एक व्यक्ति के प्यार के झांसे में आकर दलालों के चंगुल में फंस गई। एक वृद्ध की बातों में आकर वह उससे प्यार कर बैठी और उसके कहने पर घर छोड़कर उसके साथ नालंदा जिले के राजगीर पहुंच गई। वृद्ध वहां उसे बेचने की फिराक में था। इसी बीच पुलिस ने चुस्ती दिखाते हुए उसे दलालों के चंगुल से छुड़ा लिया।

Also Read: मोमेंटम झारखंड की होगी जाँच एसीबी ने सरकार से जाँच शुरू करने की मांगी अनुमति

नाबालिग 21 जनवरी को छोटा डहरभंगा से फरार हो गई थी। लगातार प्रयास के बाद उसका लोकेशन राजगीर में मिल रहा था। पुलिस उसे राजगीर से छुड़ाकर सात फरवरी को हजारीबाग के टाटीझरिया लेकर आई। पुलिस के अनुसार लड़की उन लोगों के चक्कर में फंस गई थी, जिनका धंधा नाबालिग लड़कियों को बहला-फुसलाकर बाजार में बेच देना है।

Also Read: लातेहार के मोरवाई जंगल में बड़ा हादसा, एक बच्ची गंभीर रूप से घायल

नाबालिग सातवीं कक्षा की छात्रा है। वह फेसबुक पर अपने प्रेमी द्वारा दिखाए गए सब्जबाग में फंसकर घर से निकल गई थी। उसके फरार होने के बाद घरवालों ने काफी खोजबीन की। परिजनों ने इस बाबत थाना में चार लोगों द्वारा नाबालिग के अपहरण का मामला दर्ज करवाया था। थाना प्रभारी चंदन साव ने बताया कि लड़की के मोबाइल के लोकेशन के आधार पर तलाश करते हुए उसे नालंदा जिले के राजगीर से पकड़ा गया। मौका पाकर साथ रह रहे लोग लड़की को छोड़कर फरार हो गए।

Leave a Reply