सेक्स-वर्कर्स से मिली महागामा विधायक दीपिका सिंह, सरकार से मांग आम लोगो की तरह इनकी भी मदद की जाए

tnkstaff
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

कोरोना महामारी की वजह से पूरा भारत लॉकडाउन हुआ और अब धीरे-धीरे स्थिति को सामान्य करने की कवायद शुरू हो चुकी है. इस ओर कदम बढ़ाते हुए सरकार ने अनलॉक-1 का फैसला किया है जिसकी वजह से जिंदगी को सामान्य रखने की जुगाड़ की जा रही है.

Also Read: नेपाल विवाद पर बोले राजनाथ सिंह, हमारे बीच अटूट रिश्ता है, विवाद बैठकर सुलझाएंगे

लॉकडाउन होने से देश सहित राज्य की भी आर्थिक स्थिति पर बुरा प्रभाव पडा है. दूसरे राज्यों में काम करने गए लोगो को अपने राज्य वापस लौटना पड़ा है. उनके अब रोजगार की तलाश है. सरकार ये दावा कर रही है की जिलेवार बेरोजगारों का डाटा तैयार कर उन्हें रोजगार से जोड़ा जायेगा। मनरेगा में भी इच्छुक लोगो को रोजगार दिया जा रहा है. लेकिन क्या 300 से अधिक कमाने वाले मजदूर मनरेगा में सिर्फ 194 रुपए के लिए काम करेंगे??

Also Read: दुष्कर्म के आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा, तीन साल की बच्ची को बनाया था हवस का शिकार

इन सब के बीच सरकार से लेकर सामाजिक संगठन जिस वर्ग की मदद करना भूल गयी वो सेक्स वर्कर्स है. लॉकडाउन में जिस तरह से ये जिंदगी गुजार रही है वो बेहद ही कठिन है. रहने के लिए घर नहीं है और न ही सही से दो वक़्त की रोटी मिल पाती है ऐसे में जिंदगी गुजारना कितना कठिन होगा इसका अंदाज़ा लगाया जा सकता है.

गोड्डा जिले के महागामा से कांग्रेस की विधायक दीपिका पांडेय सिंह ने सेक्स वर्कर्स से मुलाकात कर उनकी समस्याओं को जाना और उनकी बातो को सुना। विधायक से बात करते हुए सेक्स वर्कर्स ने कहा की लॉकडाउन का पालन हमने आम लोगो की तरह किया है. अपने यहां कस्टमर्स को आने नहीं दे रहे हैं. रोज़ाना के लिए खाने-पीने का इंतज़ाम करना मुश्किल हो गया है.

Also Read: राज्यसभा चुनाव के लिए 17 को UPA की बैठक, विनोद सिंह और अमित यादव को भी मिला बैठक में शामिल होने का न्योता

आगे सेक्स वर्कर्स ने कहा की सेक्स वर्करों का काम कर अपना पेट पालने वाले हमारे समाज के सामने बड़ी समस्या खड़ी हो गई है. राशन तो दूर एक वक़्त की रोटी तक नहीं मिल पा रही है. कोरोना की वजह से काम बंद है. अब हमारे पास न रहने का घर है और न ही खाने और इलाज के लिए पैसे है. पैसे नहीं और ना पेट चलाने के कोई और विकल्प है.

सरकार सबकी मदद कर रही है लेकिन हमारी तरफ ध्यान नहीं दिया जा रहा है. सरकार से मदद की गुहार लगते हुए सेक्स वर्कर्स का कहना है कि और लोगों की तरह सरकार को हमारी भी मदद करनी चाहिए।

Leave a Reply

In The News

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भाजपा पर बोला हमला कहा, लॉकडाउन में मुंह छुपाने वाले मांग रहे हैं हिसाब

झारखंड के 2 विधानसभा सीटों पर आने वाले 3 नवंबर को मतदान होंगे मुख्यमंत्री बनने के बाद हेमंत सोरेन ने…

धनबाद में गोली मारकर युवक की हत्या, मामले की जांच में जुटी पुलिस Dhanbad News

धनबाद जिले के बरोड़ा थाना क्षेत्र अंतर्गत मुराईडीह स्थित बीसीसीएल क्वार्टर में रहने वाले युवक की गोली मारकर हत्या कर…

CM ने कहा राज्य में फैक्ट्री लगाने वाले 75% नौकरी स्थानीय लोगों को देगे- जल्द आयेगा कानून

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन एक बड़ा बयान दिया है उन्होंने कहा है कि आने वाले विधानसभा सत्र में एक कानून लेकर…

रांची में रोजगार मेला का आयोजन, जल्दी करे रजिस्ट्रेशन- Ranchi news

कोरोना महामारी के बीच रोजगार की तलाश कर रहे युवाओं के लिए रांची जिला प्रशासन की तरफ से रोजगार मेले…

DGP एमवी राव ने की प्रेसवार्ता कहा- 300 थानों में बनेगा महिला हेल्प डेस्क

झारखंड में आए दिन महिलाओं के साथ हो रहे अत्याचार की खबरें सामने आ रही है बीते कुछ दिनों में…

Bihar Election: अगले 48 घंटे के लिए झारखंड के इन तीन जिलों में बंद हुई शराब की दुकानें

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए अगले 24 घंटे में पहले चरण का मतदान होना है. ऐसे में झारखंड के वो…

जोहार 😊

Popular Searches