Categories
झारखंड

शहीद गणेश हांसदा का पार्थिव शरीर पहुँच गाँव, नम आँखों से लोगो ने दी श्रद्धांजलि

भारत-चीन बॉर्डर के लद्दाख स्थित गलवान घाटी में 15 जून की रात शहीद हुए गणेश हांसदा (22) का शव शुक्रवार सुबह 10.10 बजे हेलीकॉप्टर से कोसाफालिया गांव के फुटबॉल मैदान में लाया गया। वहां से सेना के वाहन में लेकर पूरे गांव में घुमाया गया.

Advertisement

सेना के ट्रक के पीछे हजारों की संख्या में लोग शहीद गणेश हांसदा अमर रहे, वंदे मातरम आदि नारा लगाते चल रहे थे। इसके बाद शहीद का शव उनके घर के आंगन में लेकर जवान पहुंचे और परिजन को सौंपा। कुछ परंपराओं का निर्वहन घर वालों द्वारा कर लेने के बाद सेना के जवान शहीद का शव लेकर घर के बगल वाले मैदान में गए। यहां सलामी देने के बाद पैतृक जमीन पर जहां दाह-संस्कार की तैयारी की गई है, वहां ले जाया जाएगा।

Also Read: भारत-चीन झड़प में झारखंड के 2 जवान शहीद, परिवार में मातम का माहौल है, CM सोरेन ने शहीदों को दी श्रद्धांजली

कोसाफालिया गांव में मुख्य सड़क और प्रायः सभी घरों के सामने तिरंगा लगाया गया है। श्रद्धांजलि देने आने वालों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिहाज से चूना का गोल घेरा बनाया है प्रशासन ने। शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए सांसद विद्युतवरण महतो, जिला परिषद उपाध्यक्ष राजकुमार सिंह, भाजपा नेता डा. दिनेशानंद गोस्वामी, दिनेश साव, भरत सिंह, जिप सदस्य जगन्नाथ महतो, देवयानी मुर्मू, सरोज महापात्र, झामुमो नेता असित मिश्रा, आदित्य प्रधान समेत काफी संख्या में लोग यहां पहुंचे हैं।

विधि व्यवस्था बनाए रखने के लिए घाटशिला के एसडीएम अमर कुमार एवं एसडीपीओ राजकुमार मेहता पुलिस बल के साथ तैनात हैं। चर्चा है कि राज्यसभा प्रत्याशी को वोट डालने के बाद कोल्हान प्रमंडल के तमाम झामुमो विधायक-मंत्री रांची से यहां शहीद को श्रद्धांजलि देने और परिवारजन से दोपहर बाद मिलने आएंगे। उपायुक्त रविशंकर शुक्ला और एसएसपी तमिल वाणन भी पहुंचे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *