जनता को परेशान करने वाले अधिकारी हो जाये सावधान ! क्यूंकि ये है हेमंत सरकार

Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on telegram
Share on reddit

झारखण्ड के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने 29 दिसंबर को झारखण्ड के 11वें मुख्य्मंत्री के रूप में शपथ ग्रहण किया थे. जिसके बाद से वे फुल एक्शन में है. 29 दिसंबर को शपथ लेने के बाद हुयी कैबिनेट की बैठक में ही मुख्य्मंत्री हेमंत सोरेन ने बड़े फैसले लेकर झारखण्ड की जनता का दिल जीत लिए जीके बाद से पुरे झारखण्ड में उनकी तारीफ होने लगी है.

सोशल मीडिया के द्वारा आ रही समस्याओ का हो रहा है समाधान:

मुख्यमंत्री बनने के पूर्व जिस प्रकार से हेमंत सोरेन झारखण्ड से जुड़े मुद्दे और लोगो की समस्याओ को उठे थे ठीक उसी तरह मुख्य मंत्री बनने के बाद सोशल मीडिया पर काफी सक्रिये है. झारखण्ड की जनता अपनी समस्याओ को ट्विटर के माध्यम से मुख्यमंत्री के पास न्याय की उम्मीद के साथ ट्वीट करते है और मुख्य्मंत्री के द्वारा उनकी बातो को सुना भी जाता है. साथ ही तुरंत कार्रवाई भी हो रही है.

Also Read: एक्शन में हेमंत सरकार, 3000 लोगो पर दर्ज राजद्रोह के मुक़दमे पर दिया बड़ा आदेश

चाईबासा के हॉस्पिटल में परोसा गया था सिर्फ भात अधिकारी हो गये निलंबित:

झारखंड के चाईबासा जिले के सरकारी हॉस्पिटल में हॉस्पिटल प्रबंधन के द्वारा इलाज करवा रही बच्ची को खाने में सिर्फ भात परोसा गया था जिसके बाद ये मामला मुख्य्मंत्री हेमंत सोरेन के संज्ञान में आया और उन्होंने चाईबासा के डीसी को आदेश दिया की मामले की जाँच करे और दोषी अधिकारियो पर कारवाई करे. जिसके कुछ देर बाद चाईबासा के डीसी ने हेमंत सोरेन को ट्वीट कर जानकारी दी की लापरवाही बरतने वाले अधिकारियो को निलंबित कर दिया गया है.

धनबाद में घूस मांगने वाले पुलिस कर्मी को किया गया निलंबित:

धनबाद जिले के जोरापोखर में कोयला बेचने जा रहे एक आदमी से एक व्यक्ति पैसे मांगने वाला वीडियो वायरल हो रहा था. उसी दौरान धनंजय मंडल नामक एक व्यक्ति ने ट्विटर कर इस वीडियो को हेमंत सोरेन के ट्विटर अकॉउंट को टैग कर कहा की “अवैध कोयलातस्करो से वसूली करते धनबाद जिला के जोड़ापोखर थाना के इस्पेक्टर का बॉडी गार्ड” इस वीडियो की जाँच करने की मांग की जिसके बाद हेमंत सोरेन ने रिप्लाई करते हुए धनबाद के डीसी से मामले की जाँच करने को कहा और डीसी ने जांच करने की बाद हेमंत सोरेन को ट्वीट कर कहा की जाँच के दौरान “प्रस्तुत मामला संज्ञान में आते ही जांच का निर्देश दिया गया। जिसमे गृह रक्षक श्री भगवान सिंह का वायरल वीडियो सत्य पाया गया एवम् तत्काल प्रभाव से इन्हे कार्य मुक्त करने का निर्देश दिया गया।” जिसके बाद से एक बार फिर जनता में जनता में अच्छा सन्देश गया है. और लोग हेमंत सोरेन को बेहतर मुख्य्मंत्री बता रहे है

Leave a Reply

In The News

राजस्थान कांग्रेस का अगला अध्यक्ष कौन? अध्यक्ष पद को लेकर अशोक गहलोत और सचिन पायलट में तकरार बढ़ा

राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट आमने-सामने हैं. इस मामले को लेकर…

गुमला में लाठी डंडे से पीट-पीटकर कर आदिवासी युवक की हत्या, शुक्रवार से था लापता

गुमला जिले के घाघरा थाना क्षेत्र के आदर चट्टी नामक गांव में 36 वर्षीय विजय उरांव की लाठी डंडे से…

झामुमो पर पूर्व सांसद लक्ष्मण गिलुवा का हमला कहा, 6 महीने की सरकार एक भी वादा पूरा नहीं कर पाई है

भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सह सिंहभूम के पूर्व सांसद लक्ष्मण गिलुवा ने राज्य सरकार को आड़े हाथों लेते हुए…

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और पत्नी कल्पना सोरेन की कोरोना जांच रिपोर्ट आई निगेटिव

झारखंड सरकार के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री और टुंडी के विधायक के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद मुख्यमंत्री 8…

रिश्वत लेते रंगे हाथो धराया बिजली विभाग का क्लर्क, ACB की टीम ने किया गिरफ्तार

सरायकेला खरसावां बिजली विभाग के हेड क्‍लर्क को रिश्‍वत लेते रंगे हाथ गिरफ़तार किया है। टीम का नेतृत्व एसीबी डीएसपी…

आकाशीय बिजली गिरने से साहिबगंज में 3 महिलाओ की मौत, 4 अन्य भी झुलसे

पुरे झारखंड में भारी बारिश हो रही है. लगातार हो रही बारिश के कारण किसान अपने खेतों में काम कर…

Get notified Subscribe To The News Khazana

Follow Us

Popular Topics

Trending

Related News