Skip to content
20201024_095407.jpg

बसंत सोरेन के लिए प्रचार करेगे प्रदीप बालमुचू, कांग्रेस में घर वापसी की तैयारी

News Desk

2019 के विधानसभा चुनाव से ठीक पहले पूर्व राज्यसभा सदस्य और कांग्रेस के नेता प्रदीप बालमूचू ने कांग्रेस को छोड़ आजसू का दामन थाम लिया था लेकिन बीते 1 साल में ही प्रदीप बालमूचू का आजसू से मोहभंग हो गया है और वह उससे अलग भी हो चुके हैं प्रदीप बालमूचू इन दिनों कांग्रेस में घर वापसी की तैयारी में लगे हुए हैं उन्होंने इस संबंध में एक पत्र भी कॉन्ग्रेस कार्यालय को भेजा है जिसमें उन्होंने अनुरोध किया है कि वह फिर से एक बार कांग्रेस पार्टी में शामिल होना चाहते हैं इतना ही नहीं प्रदीप बालमूचू खुलकर अब दुमका से झारखंड मुक्ति मोर्चा के प्रत्याशी बसंत सोरेन के पक्ष में चुनाव प्रचार करने के लिए मैदान में उतर रहे हैं उन्होंने कहा कि झारखंड के 2 विधानसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव में यूपीए गठबंधन की जीत होगी भाजपा सहित अन्य दल भले ही कुछ कह ले लेकिन सच्चाई यही है.

Advertisement

प्रदीप बालमुचू झारखंड कांग्रेस इकाई के 8 वर्षों तक प्रदेश अध्यक्ष के पद पर रहे थे साथ ही यह मंत्री पद पर भी रह चुके हैं परंतु 2019 के विधानसभा चुनाव में आजसू के टिकट पर घाटशिला विधानसभा से चुनाव लड़ने के बाद उन्हें हार का सामना करना पड़ा था चुनाव हारने के बाद उन्होंने आजसू पार्टी से अपना रास्ता साफ कर लिया और अलग हो गए वही एक बार फिर वह कांग्रेस पार्टी में घर वापसी की रणनीति पर काम कर रहे हैं इसे लेकर उन्होंने साफ भी किया है.

प्रदीप बालमुचू ने अपने एक बयान में कहा है की वह कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के लिए विधिवत तरीके से कोशिश कर रहे हैं उम्मीद है कि आने वाले दिनों में सकारात्मक खबर पार्टी की तरफ से आएगी. दुमका विधानसभा से झामुमो के प्रत्याशी बसंत सोरेन के पक्ष में चुनाव प्रचार करने के संबंध में उन्होंने कहा की दुमका सीट पर झारखंड मुक्ति मोर्चा के प्रत्याशी बसंत सोरेन की ही जीत होगी भाजपा के लोग भले ही कुछ भी कहें लेकिन जनता सच्चाई जानती है भाजपा पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी झारखंड में सिर्फ जनता को बरगलाने का काम करती है जनता से उनका कोई भी सरकार नहीं है

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches