Hemant soren

राज्य में रोजगारोन्मुखि उद्योगों के स्थापना करना सरकार की प्राथमिकता:- CM हेमंत सोरेन

Shah Ahmad
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि राज्य में ऐसे उद्योगों की स्थापना की जाए जिससे अधिक से अधिक रोजगार का सृजन हो और राजस्व की भी प्राप्ति हो.उन्होंने कहा कि राज्य में रोजगार सृजन करना है सरकार की प्राथमिकता है साथ ही राजस्व की भी प्राप्ति हो इसे सुनिश्चित करना है. उक्त बातें मुख्यमंत्री झारखंड मंत्रालय में उद्योग विभाग की समीक्षा बैठक में बोल रहे थे.

Advertisement

इंडस्ट्री प्रमोशन की एक टीम बनाएं:

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि राज्य में उद्योगों के विकास हेतु नई-नई इन्नोवेटिव चीजों को बढ़ावा देने के लिए इंडस्ट्री प्रमोशन की एक टीम बनाएं जो देश दुनिया में उद्योगों के क्षेत्र में हो रहे नए-नए कार्यों की समीक्षा करें साथ ही उद्यमियों को आकर्षित करने का भी कार्य करें. उन्होंने कहा कि राज्य में एक नए कल्चर में उद्योगों की स्थापना हो इस दिशा में प्रयास करने की जरूरत है.

फूड प्रोसेसिंग के क्षेत्र को और व्यापक बनाया जाए:

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि फूड प्रोसेसिंग के क्षेत्र को और अधिक व्यापक बनाया जाए. उन्होंने कहा कि अभी तक हम सिर्फ टमाटर से केचप और हरी मिर्च से चिली सॉस का प्रोसेसिंग ही जानते हैं.जबकि कई ऐसी फसल है जिनका हम फूड प्रोसेसिंग कर सकते हैं हमें उन सब चीजों को जानने की जरूरत है. हमें किसानों को बढ़ावा देना चाहिए कि अगर किसी उत्पाद की फूड प्रोसेसिंग की जा सकती है तो इस क्षेत्र में आगे आए सरकार उनका पूर्ण सहयोग करेगी. उन्होंने फूड प्रोसेसिंग के साथ इसके मार्केटिंग को बढ़ावा देने पर भी बल दिया.

लघु एवं कुटीर उद्योग को लघु कुटीर उद्योग दिया जाए बढ़ावा:

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्य में लघु एवं कुटीर उद्योगों को बढ़ावा दिया जाए ताकि इस क्षेत्र में कार्य कर रहे लोगों के जीवन स्तर में व्यापक बदलाव आए. लोगों के द्वारा बनाए गए उत्पादों को एक बाजार मिले इस दिशा में कार्य करें.

मिट्टी के बर्तनों की उपयोगिता को सुनिश्चित करें:

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने उद्योग विभाग की समीक्षा के दौरान माटी कला बोर्ड के कार्यों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिया कि कुम्हार एवं शिल्प कारों के द्वारा बनाए गए उत्पादों को एक बाजार मिले इसे बोर्ड सुनिश्चित करें. उन्होंने कहा कि आज मिट्टी के बर्तनों का प्रचलन काफी बढ़ गया है इसे और अधिक बढ़ावा देने की जरूरत है यह स्वास्थ्य के लिए अच्छा है ही साथ ही पर्यावरण की दृष्टि से भी काफी बेहतर है.

राज्य में साइकिल मैन्युफैक्चरिंग यूनिट की स्थापना जल्द से जल्द हो:

समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने उद्योग सचिव को निर्देश दिया कि राज्य में साइकिल मैन्युफैक्चरिंग यूनिट की स्थापना का जल्द से जल्द प्रयास हो इस दिशा में जो भी उद्यमी झारखंड में उद्योग लगाना चाहते हैं उन्हें सरकार की तरफ से सभी तरह की सुविधाएं मुहैया कराई जाए.

बैठक में उद्योग सचिव पूजा सिंघल ने उद्योग विभाग की उपलब्धियों एवं कार्य योजना पर विस्तार से प्रकाश डाला. उन्होंने बताया कि रांची के चान्हो स्थित बरहे में फार्मा पार्क का निर्माण किया जाना है. इसी तरह गोपालगंज, धनबाद में लेदर पार्क, नामकुम ,रांची में आईटी टावर का निर्माण किया जा रहा है

उद्योग विभाग की उपलब्धियां एवं कार्य योजना:

देवघर के देवीपुर औद्योगिक क्षेत्र में 67.33 करोड़ की लागत से प्लास्टिक पार्क का निर्माण किया जा रहा है प्लास्टिक पार्क की स्थापना हेतु कुल 93.09 एकड़ भूमि आरक्षित की गई हैं. पार्क में कुल 111 प्लॉट बनाया गया है जिसमें माइक्रो 83 स्मॉल 14 एवं वृहत 5 औद्योगिक इकाइयां हेतु आवंटित किया जाएगा

औद्योगिक नीतियों के तहत गत 1 वर्ष ( दिसंबर 2019) से अब तक कुल 579.79 करोड़ की लागत से 68 इकाइयां स्थापित की गई जिसमें 4 062 लोगों को रोजगार मिला और 4951.86 की लागत से 52 इकाइयों की स्थापना प्रस्तावित है जिसमें करीब 4 286 रोजगार के सृजन की संभावना है

प्रधानमंत्री फॉर्मलाइजेशन ऑफ माइक्रो फूड प्रोसेसिंग इंटरप्राइजेज योजना 2020-21 से प्रारंभ किया गया है जिसमें भारत सरकार द्वारा वर्तमान वित्तीय वर्ष 2020 -21 मे 2.6 करोड़ किया गया है

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Popular Searches