Skip to content
WhatsApp Image 2020-05-24 at 6.29.00 AM

गिरिडीह की छह वर्षीय बच्ची से हुए दुष्कर्म मामले को लेकर जनता में रोष, कड़ी सजा की कर रहे मांग

News Desk

गिरिडीह जिला के बेंगाबाद में छ: वर्षीय बच्ची के साथ हुई हैवानियत ने पुरे झारखंड को हिलाकर रख दिया है. पुर झारखंड में बच्ची को इंसाफ दिलाने के लिए आवाज़े उठने लगी है.

Advertisement

दरअसल घटना पांच दिन पहली की है जब छः वर्षीय बच्ची के पड़ोस में रहें वाले 12 वर्ष के युवक ने उसके साथ हैवानियत को अंजाम दिया और बच्ची को मरा समझ कर भाग गया. बच्ची को घर में न देख परिजन उसकी तलाश में जुट गयी और बच्ची को बेहोशी के हालत में बरामद किया। बच्ची जब शनिवार को होश में आई तब दुष्कर्म का मामला सामने आया.

Also Read: नशा करने वाले लोगो को रोका तो, नशेड़ियों ने युवक की कर दी पिटाई

बेंगाबाद थाना क्षेत्र में छह वर्षीय बच्ची का शनिवार को मेडिकल जांच पूरा करा लिया गया। जिला एवं सत्र न्यायाधीश प्रथम स्पेशल कोर्ट रामबाबू गुप्ता के न्यायालय में बच्ची और उसकी माँ की 164 सीआरपीसी के तहत बयान दर्ज करा गया है। बेंगाबाद थाना प्रभारी प्रशांत कुमार ने बताया कि घटना के संबंध में बेंगाबाद थाना में कांड अंकित कर लिया गया है कांड संख्या 97 2020 दफा 376 भा द वि 4 ध्6 पोस्को एक्ट में मामला दर्ज किया गया है। आरोपी दुष्कर्म के बाद परिवार समेत फरार हैं। आरोपी को जल्द गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

Also Read: जैक को 10वीं और 12वीं के कॉपियों के मूल्यांकन की मिली अनुमति, जानिए कब आएगा रिजल्ट

पीड़िता की मां ने बतायी कि हमारी बेटी पड़ोसी के घर खेलने गई थी । दोपहर 1:30 – 2:00 बजे खोजने के लिए घर से बाहर निकले तो बच्ची चारदीवारी के पास जमीन पर बेहोश पडी थी। जिसे आनन-फानन में निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। मेरी बच्ची घर से सटे पड़ोस की एक बच्ची के साथ खेलने वहां उसके घर आती जाती थी । उस बच्ची के 15 वर्षीय भाई ने गलत काम किया है। बच्ची से पूछने पर बच्ची ने बताई कि पड़ोस के भैया ने उसके साथ गंदा काम किया।

Also Read: UPA अध्यक्ष सोनिया गाँधी के साथ बैठक में बोले CM सोरेन, जीएसटी की मार झेल रहा झारखंड समय पर नहीं मिल पाता है हिस्सा

पूरी घटना 18 मई की है जब बच्ची अपने घर से खेलते-खेलते आरोपी के निर्माणाधीन इंदिरा आवास में जा पहुँची । बच्ची को घर में अकेले देख घटना को अंजाम दिया और आरोपी पीड़ित को अकेला छोड़ भाग गया। माता-पिता ने ढूंढा तो पड़ोसी के अर्धनिर्मित घर में बेहोश मिली। पीड़िता को शहर के एक नर्सिंग होम में लाया गया.

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches