झरिया सीट पर सिंह मेंशन और रघुकुल की बहुएं है आमने-सामने ! मुकाबला हो चूका है दिलचस्प

Shah Ahmad
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

कोयलांचल की धरती अपने कोयला उत्पादन के लिए पूरे विश्व भर में प्रसिद्ध है लेकिन धनबाद की राजनीति में झरिया सीट राजनीतिक गतिविधियो की वज़ह से बेहद ही प्रसिद्ध रहा है। झरिया की सीट पर वर्तमान में भाजपा से संजीव सिंह विधायक है और फिल्हाल जेल में चचेरे भाई नीरज़ सिंह की हत्या के आरोप में सजा काट रहे है।Capture-2019-11-12-13.12.00-880x440

झरिया विधानसभा की सीट एक परिवार तक सीमित है अगर ये कहा जाये तो इसमें कोई गलत बात नहीं होगी। झरिया सीट पर तीन बार विधायक रहे सूर्यदेव सिंह, उसके बाद भाई बच्चा सिंह विधायक रहे और दो बार उनकी पत्नी कुंती सिंह विधायक रही और वर्तमान में सूर्यदेव सिंह एंव कुंती देवी के पुत्र संजीव सिंह यहाँ के मौजूदा विधायक है।

Read This: दागी उम्मीदवारो से भर गयी है भाजपा, 65 के लक्ष्य को प्राप्त करना होगी चुनौती

सिंह मेंशन घराना एक वक्त में इतना मजबूत था की लगातार सत्ता पर कायम रहे और धनबाद की सियासत में अपना लोहा मनवाते रहे। सिंह मेंशन से अलग होने के बाद रघुकुल बना और वर्ष 2014 के चुनाव में दो घराने जो कभी एक थे अब दोनो एक दुसरे के खिलाफ लड़ रहे थे। 2014 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने सिंह मेंशन के संजीव सिंह को टिकट दिया तो वहीं कॉग्रेस ने रघुकुल के नीरज़ सिंह को चुनावी मैदान में उतार दिया। इस चुनाव में नीरज़ सिंह 40 हजार वोटो से हार गये और फिर एक बार झरिया सीट सिंह मेंशन के नाम हो गया

Read This: अगर हम सत्ता में आएंगे तो कृषि ऋण माफ करेंगे: राहुल गाँधी

चुनाव के तीन साल बाद यानी 2017 में कांग्रेस के टिकट पर लड़ने वाले और संजीव सिंह के चचेरे भाई नीरज़ सिंह की हत्या हो गयी। जिसकी जाँच-पड़ताल हुई और नीरज़ सिंह हत्याकांड का मुख्य आरोपीे विधायक संजीव सिंह को पाया गया। जाँच में पुलिस ने ये पुष्टि की थी की संजीव सिंह ने ही नीरज़ सिंह की हत्या करवायी थी जिसके चलते संजीव सिंह अभी जेल में बंद है और 2019 विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए निर्दलये पर्चा भी भर चुके है.

झरिया विधायक संजीव सिंह अपने बड़े भाई की मृत्यु के बाद उनकी पत्नी रागिनी सिंह से कोर्ट मैरेज़ किये थे। सिंह मेंशन की बहु रागिनी सिंह ने 2019 लोकसभा चुनाव के दौरान मुख्यमंत्री रघुवर दास की उपस्थिती में भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर चुकी है और पति के जेल से रिहा होने की उम्मीद न के बराबर है इस लिहाजे से भाजपा ने संजीव सिंह की जगह रागिनी सिंह को भाजपा अपना उम्मीदवार बनाया है। रागिनी सिंह राजनीती में काफी सक्रिये हो गयी है।

Read This: मोदी सरकार के 1 साल के कार्यकाल में 6.9% से घटकर 1% हो गया मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर का ग्रोथ

2017 में पति नीरज़ सिंह की हत्या होने के बाद रघुकुल घराने में उनकी राजनीतिक छवी और इज्जत को बनाये रखने की सबसे बड़ी चुनौती थी और इन चुनौतियो को नीरज़ सिंह की पत्नी पूर्णिमा सिंह ने स्वीकार किया और जनता के बीच सक्रिये हो कर लोगो से मिल रही है। दिवंगत नीरज़ सिंह के छोटे भाई अभिषेक सिंह ने अपने एक बयान में कहा कि उनकी भाभी पूर्णिमा सिंह कांग्रेस में शामिल होगी और उन्होंने ऐसा ही किये पूर्णिमा सिंह ने कांग्रेस का दामन थामा और पार्टी ने उन्हें झरिया से विधानसभा का टिकट भी दे दिया है जिसके बाद से वो और ज्यादा मेहनत करती हुई दिखाई दे रही है.

इन दोनों के किस्मत का फैसला 23 दिसंबर को चुनाव के परिणाम आने के बाद हे पता चल पायेगा की कौन किस पर भरी है

Leave a Reply

In The News

BJP का राज्य सरकार पर हमला, सोरेन के CM बनने के बाद अपराधिक घटनाएं बढ़ी

झारखंड बीजेपी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर गंभीर आरोप लगाए हैं प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाजपा…

मां छिन्नमस्तिके के दरबार पहुँचे कृषि मंत्री, शिक्षा मंत्री के बेहतर स्वास्थ्य के लिए किया गया पूजा अर्चना

झारखंड में 8 अक्टूबर से सभी धार्मिक स्थलों को शर्तो के साथ खोल दिया गया है जिसके बाद झारखंड के…

लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका पर आज हाईकोर्ट में होगी सुनवाई, चारा घोटाला मामले में दोषी है लालू यादव

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता है स्वास्थ्य कारणों की वजह…

भीमा कोरेगांव मामले में NIA ने सामाजिक कार्यकर्ता फादर स्टेन स्वामी को हिरासत में लेकर कर रही है पूछताछ

मुंबई के पुणे में वर्ष 2018 के जनवरी महीने में भीमा कोरेगांव में एक हिंसा भड़की थी हिंसा भड़काने के…

दिवंगत मंत्री हाजी हुसैन के अंतिम दर्शन करने पहुंचे CM सोरेन, पुष्प अर्पित कर दी श्रद्धांजलि

Ranchi: मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री हाजी हुसैन अंसारी जी के मधुपुर स्थित पैतृक गांव पिपरा में उनके…

झारखंड में कल रहेगी सरकारी छुट्टी, कल होने वाली कई परीक्षाएँ भी की गई रद्द

झारखंड सरकार में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री हाजी हुसैन अंसारी का शनिवार को रांची के मेदांता अस्पताल में निधन हो…

जोहार 😊

Popular Searches