Skip to content

बाबूलाल मरांडी के लिए साल 2020 में आई सबसे बड़ी खुशखबरी, वर्षो बाद मिला यह तोहफा

Arti Agarwal

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री सह बीजेपी विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी को साल 2020 के ख़त्म होते होते एक बड़ी खुशखबरी मिली है. सभी ने हिंदी फिल्मो में मिलने बिछड़ने की कहानियों को सुनी ही होंगी लेकिन यह हकीकत में बाबूलाल मरांडी के साथ हुआ है.

बाबूलाल मरांडी की एक बहन जो 8 पहले अपने परिवार से बिछड गई थी वो अपने परिवार से एक बार फिर मिल गयी है. घर के किसी भी सदस्य को विश्वास नहीं था की उनकी बहन जिंदा भी होगी लेकिन उनके जिंदा होने की खबर सुनकर परिवार के सभी सदस्य में ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी है.

झारखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी की छोटी बहन मैसुनी देवी जो परिवार से 8 साल पहले बिछड गयी थी वो परिवार वालो को मिल गयी है. बाबूलाल मरांडी और परिवार के लोगो के लिए नए साल का यह सबसे बड़ा तोहफा मिला है. बता दें की मैसुनी देवी साल 2000 में डिप्रेशन की शिकार हो गयी थी. उनका रांची में इलाज चल रहा था इसी बीच वह लापता हो गयी थी. साल 2012 में मैसुनी देवी भटक कर राजस्थान पहुचं गयी थी और वही रह रही थी.

राजस्थान के एक आश्रम में रहने का ठिकाना मिला और और वही उनका इलाज शुरू किया गया. जिसका बाद वह स्वास्थ्य हो गयी और अपनी पूरी कहानी वह के लोगो को बताई जिसका बाद बाबूलाल मरांडी से संपर्क किया गया. बाबूलाल मरांडी से बात करने के बाद उनके भाई और भतीजा मैसुनी देवी को लेन के लिए राजस्थान रवाना हुए और उन्हें घर लेकर आ गए.

Leave a Reply