Skip to content
jhadap

होटवार जेल में भिड़े झारखण्ड के दो पूर्व मंत्री योगेंद्र साव और एनोस एक्का

Shah Ahmad

झारखण्ड के दो पूर्व मंत्री एनोस एक्का और योगेंद्र साव के बीच मारपीट होने के साथ गली-गलोज भी हुई है. दोनों ने एक दूसरे के खिलाफ जेल प्रशासन की मदद से खेलगाँव में प्राथमिकता दर्ज करवाने के लिए आवेदन भेजा है.

Advertisement

Also Read: गुमला: मुस्लिमों द्वारा थूककर कोरोना फैलाने की अफवाह के बाद हुई झड़प में युवक की मौत

रांची के बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा (जेल) में दो पूर्व मंत्री भिड़ गए। दोनों में काफी देर तक गाली-गलौज हुई और मारपीट तक की नौबत आ गई। इसे लेकर दोनों पूर्व मंत्रियों ने जेल प्रशासन के माध्यम से रांची के खेलगांव थाने में प्राथमिकी के लिए आवेदन भेजा है। दोनों के आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। सूत्रों के अनुसार दोनों मंत्रियों के विवाद में जेल प्रशासन को हस्तक्षेप करना पड़ा। इसके बाद मामला कंट्रोल हुआ था। इस मामले में दोनों ने एक-दूसरे पर मारपीट का आरोप भी लगाया है। खेलगांव थाने की पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।

Also Read: BIT सिंदरी के तीन छात्रों ने बनाया कोरोना से संक्रमित व्यक्ति का पता लगाने वाला बैंड

आवेदन में दोनों पूर्व मंत्रियों ने एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाए हैं। एनोस एक्का ने अपनी शिकायत में लिखा है कि योगेंद्र साव ने जातिसूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए उन्हें गाली और धमकी दी, जबकि योगेंद्र साव ने अपने आवेदन में लिखा है कि एनोस एक्का ने उनसे जबरन पैसे मांगे। पैसे देने से इनकार करने पर गाली गलौज की और जान से मारने की धमकी दी।

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches