Skip to content
Auto Driver ranchi

जिंदगी की जंग हार गया ऑटो ड्राइवर, लॉकडाउन बनी वजह, फांसी लगाकर की आत्महत्या

tnkstaff

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए देशभर सहित झारखण्ड में भी लॉकडाउन लागू है. लॉकडाउन होने की वजह से लोगो का रोजगार छीन चूका है. भुखमरी जैसे हालात हो चुके है. सरकार लगातार प्रयास कर रही की राज्य भर में भुखमरी की स्थिति उत्पन्न न हो. थानों को भी आदेश दिया गया है की जरुरत मंद लोगो को भोजन कराना है. ताकि कोई भी भूखा न रह पाए.

Advertisement

Also Read: हज़ारीबाग़ से मिले दूसरे कोरोना पॉजीटिव के साढ़ू के गाँव को किया गया सील

अशोक नगर रोड नंबर चार में रहने वाले ऑटो चालक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया है। मृतक ऑटो चालक का नाम पप्पू कुमार सिंह है। वह बिहार के आरा का रहने वाला था। पूरा परिवार आरा में ही रहता है। मकान मालिक के अनुसार पप्पू उनके मकान में अकेले पिछले 2 वर्षों से किरायदार के रूप में रह रहा था।

पप्पू ने मकान मालिक को बताया कि वह लॉकडाउन से परेशान रह रहा था। काम बंद हो गया है। साथ ही कहता था कोरोना वायरस से डर लगता है। कहीं मर न जाऊं। मकान मालिक ने इसपर समझाया भी था। इन सब से टेंशन नहीं लो। मकान मालिक मदद भी करता था। मकान मालिक ने पुलिस को बताया था कि कुछ माह पहले भी डिप्रेशन में रहता था। इसे लेकर रिनपास में इलाज भी कराया था। मामले में मकान मालिक के बयान पर अरगोड़ा थाने में यूडी केस दर्ज किया गया है।

Also Read: विभावि, कोल्हान, सिदो-कान्हू और नीलाम्बर-पीताम्बर विश्वविद्यालय के कुलपतियों का वित्तीय अधिकार लिए गए वापस

मृतक के कमरे से पुलिस ने नोटों का बंडल बरामद किया है। बरामद नोट करीब 15 हजार रुपये हैं। हालांकि कोई भी सुसाइड नोट पुलिस को नहीं मिला है। फिलहाल पुलिस मकान मालिक और अन्य किरायदारों से जानकारी ले रही है। वहीं मृतक के परिजनों को भी मामले की सूचना दी गयी है

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches