Skip to content

नवादा और गया जिला में चुनाव के 48 घंटे पहले से कोडरमा की शराब दुकाने रहेगी बंद

News Desk

बिहार में आगामी 28 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव के लिए पहले चरण की वोटिंग होगी चुनाव में शराब की भारी खेप इधर से उधर होती दिखाई देती है बिहार में शराबबंदी के कारण बिहार से सटे पड़ोसी राज्य झारखंड के कोडरमा जिले से भारी संख्या में शराब की तस्करी की खबरें सामने आती रही है ऐसे में अंदेशा जताया जा रहा है कि मतदान प्रक्रिया को प्रभावित करने के लिए इस जिले सहित अन्य बिहार से सटे जिलों से शराब की तस्करी भारी मात्रा में होगी इसी को ध्यान में रखते हुए चुनाव आयोग की तरफ से कोडरमा जिला के उपायुक्त को एक आदेश भेजा गया है जिसमें कहा गया है कि कोडरमा जिले से सटे बिहार के नवादा और गया जिले में 28 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान की प्रक्रिया होगी अतः इन जिलों से शराब की तस्करी ना हो इसलिए मतदान के दिन से पूर्व 2 दिन पहले सभी सरकारी शराब दुकानें बंद रखी जाएंगी

कोडरमा उपायुक्त रमेश घोलाप को भेजे गए इस आदेश को उन्होंने जारी करते हुए बताया कि 28 अक्टूबर को बिहार के नवादा और गया जिले में मतदान होगी इस लिहाज से बिहार के इन दो जिलों से कोडरमा जिला सटा हुआ है ऐसे में यहां से शराब ले जाकर वहां चुनाव को प्रभावित किया जा सकता है जिसे ध्यान में रखते हुए मतदान के 2 दिन पूर्व या नहीं 26 अक्टूबर से ही जिले के सभी सरकारी शराब दुकानें बंद रहेंगी यदि आदेश का उल्लंघन करते हुए किसी भी दुकान को पकड़ा गया तो ऐसी स्थिति में उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी

मतगणना के दिन भी कोडरमा जिला प्रशासन की तरफ से प्रतिनिधित्व अधिनियम और झारखंड उत्पाद अधिनियम के तहत शुष्क दिवस यानी ड्राई डे घोषित किया गया है। कोडरमा उपायुक्त रमेश घोलप ने आदेश जारी कर कहा है कि उल्लेखित अवधि के दौरान किसी होटल, भोजनालय, औदुकानों में अथवा अन्य किसी निजी या सरकारी स्थानों में किसी भी प्रकार का स्प्रिटयुक्त मादक शराब या वैसे ही प्रकृति का कोई पदार्थ न तो बेचा जाएगा और ना ही वितरित किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा है कि दिए गए निर्देशों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सुसंगत धाराओं के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply