Skip to content
Hemant Soren

दुमका से पुरे सम्मान के साथ लद्दाख रवाना हुए श्रमिक, CM बोले जो पहले हुआ वो अब नहीं होगा

News Desk

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन शनिवार को उपराजधानी दुमका पहुंचे। दुमका रेलवे स्टेशन पर विशेष ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर श्रमिकों को लेह-लद्दाख के लिए रवाना किया। सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) द्वारा इस स्पेशल ट्रेन से श्रमिकों को लेह लद्दाख ले जाया जाएगा।

Advertisement

Also Read: झारखंड सरकार का निजी अस्पतालों के लिए आदेश, कोरोना संक्रमित होने के बाद नहीं कर सकते रेफर

बताते चलें कि यह कार्यक्रम शुक्रवार को ही होना था पर पर मुख्यमंत्री को कल दुमका दौरा रद्द करना पड़ा था। क्योंकि मौसम की खराबी की वजह से हेलीकॉप्टर दुमका के लिए उड़ान नहीं भर सका था।

Also Read: कच्चे तेल की कीमतें 66% तक कम हुई थीं, लेकिन सरकार ने आम जनता काे नहीं पहुंचाया फायदा

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि आज पूरे देश और झारखंड के लिए अविस्मरणीय पल है. इतिहास में पहली बार श्रमिक भाई-बहन अपने हक, अधिकार, गौरव और सम्मान के साथ देश निर्माण पर रवाना हुए हैं. झारखंड के दुमका जिले से लेह-लद्दाख जाने के लिए 1600 से अधिक श्रमिक स्पेशल ट्रेन से रवाना हुए.

Also Read: 2018 के सूखा पीड़ित किसानो को भी राज्य सरकार देगी मुआवजा, मंत्री ने उपायुक्तों से मांगी है रिपोर्ट

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की अपेक्षा है कि श्रम कानून के तहत श्रमिकों एवं कामगारों को पारदर्शी तरीके से रोजगार मिले। इसमें किसी बिचौलियों की भूमिका नहीं रहे। साथ ही श्रम कानून के प्रावधानों के तहत मजदूरी उनके बैंक खाते में प्रतिमाह भेजी जाए। यह भी ध्यान रहे कि दुर्गम क्षेत्रों में काम करनेवाले मजदूर सुरक्षित रहें।

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches