Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on email
Share on print
Share on whatsapp
Share on telegram

गुरूवार को दावा किया गया की इस्त्राइली स्वाइवेयर ‘पेगासस’ के जरिये कुछ अज्ञात इकाइयां वैश्विक स्तर पर जासूसी कर रही है खुलासा होने के बाद भारत सरकार के आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने व्हाट्सएप से स्पष्टीकरण मांगा है। आइटी मंत्री ट्वीट कर कहा कि हमने व्हाट्सएप को ये स्पष्ट करने को कहा है कि यक्ह किस प्रकार की जासूसी है और उसने करोड़ो भारतीयो की सुरक्षा के लिए क्या कदम उठाये है।

व्हाट्सएप ने कहा कि हम एनएसओ ग्रुप के खिलाफ कानूनी कारवाई कर रहे है। यह कंपनी निगरानी करने का काम करती है समझा जाता है कि इसी कंपनी ने एक तकनीक विकसित की है जिसके जरीये करीब 1,400 लोगो के फोन हैक किये गये है जिसमें पत्रकार, नेता, वकील और कई अन्य लोग शामिल है हलांकी कंपनी ने भारत में इससे प्रभावित लोगो की संख्या नहीं बतायी है।

कांग्रेस सहित कई विपक्षी दलो के नेताओ ने इसपर सरकार को घेरा है ट्वीटर पर नेताओ ने लिखा की इस मामले की गहराई से जांच होनी चाहिए ताकि ये पता चल पाये कि आखिर किसके फोनो हैक किये गये है और उनका मकसद क्या है।

Related News

Leave a Reply