Bharat band

केन्द्र सरकार के खिलाफ देशव्यापी हड़ताल आज, बैंक-बीमा सहित अन्य संस्थानों के लोग होगें शामिल

tnkstaff
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

संविधान दिवस के मौके पर एक तरफ जहां पूरा देश संविधान दिवस की खुशियां मना रहा होगा वहीं दूसरी तरफ मौजूदा केंद्र सरकार के खिलाफ यूनियनों ने देशव्यापी हड़ताल बुलाई है जिसमें बैंक बीमा कोयला सहित किसान और मजदूर भी शामिल होंगे

Advertisement

केंद्र सरकार की किसान और मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ देशव्यापी हड़ताल किया जा रहा है इसमें बैंककर्मी, बीमा कर्मी, कोयला और खनन क्षेत्र के लोग सहित नई किसान नीति के विरोध में किसान भी देशव्यापी हड़ताल में शामिल हो रहे हैं हड़ताल को सफल बनाने के लिए बुधवार की शाम को राजधानी रांची के सैनिक मार्केट में एक मशाल जुलूस निकाला गया और अधिक से अधिक लोगों को हड़ताल में शामिल होने का आग्रह किया गया.

सेंट्रल ट्रेड यूनियंस ने केंद्र सरकार की श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ में हड़ताल का ऐलान किया है बता दें कि केंद्र सरकार ने हाल ही में तीन नए श्रम कानून पारित किए हैं तथा 27 पुराने कानूनों को खत्म कर दिया है जिसके विरोध में यह हड़ताल की जा रही है 26 नवंबर को पूरे देश में होने वाले देशव्यापी हड़ताल का असर झारखंड पर भी पड़ सकता है यहां पूरे राज्य में बैंक का कार्य प्रभावित हो सकता है हजारों बैंक कर्मी इस हड़ताल में शामिल होंगे एसबीआई, एआईबीए और इंडियन ओवरसीज बैंक को छोड़कर ज्यादातर सार्वजनिक बैंक ज्यादातर कर्मचारी इस हड़ताल का हिस्सा होंगे

हड़ताल का इन क्षेत्रों में होगा असर:

26 नवंबर को किए जाने वाले देशव्यापी हड़ताल में पत्थर, खनन, ढुलाई, कोयला, स्टील, आयरन, बॉक्साइट, निर्माण सेक्टर से लेकर बैंकिंग, डाक, रेल, दूरसंचार, बीमा सहित सभी पीएसयू को निजी कंपनियों के हाथों सौंपने के निर्णय के खिलाफ इस क्षेत्र से भी बंद को समर्थन मिलेगा इसका व्यापक असर संबंधित क्षेत्र पर हो सकता है.

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Popular Searches