MDH owner death

MDH मसाला कंपनी के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का निधन, 98 वर्ष के थे गुलाटी

tnkstaff
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

भारत की सबसे मशहूर मसाला कंपनी में से एक एमडीएच मसाला कंपनी के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का 98 साल की उम्र में गुरुवार को निधन हो गया उन्होंने गुरुवार की सुबह 5:38 पर अंतिम सांस ली पिछले कई दिनों से धर्मपाल गुलाटी कोरोनावायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद बीमार चल रहे थे हालांकि उन्होंने कोरोनावायरस से जंग जीत ली थी

Advertisement

जानकारी के अनुसार महाशय धर्मपाल गुलाटी का निधन हार्ट अटैक से हुआ है धर्मपाल गुलाटी को पद्म भूषण से भी नवाजा जा चुका है गुलाटी का जन्म 27 मार्च 1923 को सियालकोट जो अभी मौजूदा पाकिस्तान में स्थित है वहां हुआ था धर्मपाल गुलाटी को व्यापार और उद्योग में उल्लेखनीय योगदान देने के लिए पिछले साल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पद्मभूषण से नवाजा था वह बंटवारे के बाद भारत आए थे उस वक्त उनके पास सिर्फ 15,00 रुपए थे बंटवारे के बाद भारत आने के बाद उन्होंने परिवार के पेट पालने के लिए तांगा भी चलाया जिसके बाद उन्होंने दिल्ली के करोल बाग में आजम खां रोड पर मसाले की एक दुकान खोली

ऐसा कहा जाता है कि मसाले का कारोबार धीरे धीरे बढ़ता चला गया और आज उनकी भारत और दुबई में मसाले की 18 फैक्ट्रियां है एक खास बात यह भी रही कि वह अपने मसालों के विज्ञापन भी खुद ही किया करते थे उन्हें दुनिया का सबसे उम्र दराज विज्ञापन स्टार भी माना जाता था उनके जीवन से जुड़ी एक दिलचस्प कहानी यह भी रही के धर्मपाल गुलाटी केवल पांचवी पास थे उनका मन पढ़ाई लिखाई में बचपन से ही नहीं लगता था जबकि उनके पिता चुन्नीलाल चाहते थे कि वह खूब पढ़े परंतु पिता की चाहत पूरी नहीं हुई और वे पांचवी के बाद उन्होंने स्कूल छोड़ दिया. स्कूल छोड़ने के बाद धर्मपाल गुलाटी पिता के साथ एक बढ़ई की दुकान पर काम सीखने के लिए जाते थे लेकिन उनका मन यहां भी नहीं लगा और उन्होंने वह काम भी नहीं सीखा इस पर पिता ने धर्मपाल के लिए एक मसाले की दुकान खुलवा दी.

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Popular Searches