लॉकडाउन के बीच 20 अप्रैल से फिर शुरू होगी टोल वसूली, केंद्र ने दी हरी झंडी

लॉकडाउन के बीच राष्ट्रीय राजमार्ग पर 20 अप्रैल से फिर टोल टैक्स की वसूली शुरू होगी। केंद्र सरकार के द्वारा इसकी मंजूरी दे दी गयी है. कोरोना वायरस के बढ़ते मामलो की वजह से भारत में लॉकडाउन की गयी है जिस कारण से केंद्र सरकार ने हाईवे पर चलने वाली गाड़ियों को टोल टैक्स फ्री किया था.

Also Read: भाजपा विधायक ने जबरन स्वास्थ्य विभाग के सैनिटाइजर ग्लव्स और मास्क उतारे कहा, चंदा दिए है तो हम ही बाँटेंगे

बता दें कि लॉकडाउन के पहले चरण की समाप्ति के एक दिन बाद 15 अप्रैल से टोल वसूली का काम फिर फिर से शुरू करने की योजना बनाई गई थी। हालांकि, बाद में केंद्र की ओर से लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ा दिया गया था।फिर भी, गृह मंत्रालय ने कई आवश्यक उद्योगों को 20 अप्रैल से दोबारा शुरू करने के लिए छूट दी है।

Also Read: भारत के इतिहास में पहली बार घर पर पढ़ा जायेगा तरावीह की नमाज़, मुख़्तार अब्बास नकवी ने दिए आदेश

गृह मंत्रालय ने भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण को लिखे एक पत्र में कहा कि यह आगे बताया गया है कि टोल शुल्क संग्रह सरकारी खजाने में योगदान देता है और एनएचएआई को बजटीय सहायता के लिए वित्तीय ताकत भी प्रदान करता है। सभी ट्रकों और अन्य सामानों या वाहक वाहनों के अंतरराज्यीय और बाहरी राज्यों में आवाजाही के लिए गृह मंत्रालय द्वारा प्रदान की गई ढील के मद्देनजर एनएचएआई को आदेशों के अनुपालन के लिए आवश्यक कार्रवाई करनी चाहिए। इसको देखते हुए टोल की वसूली 20 अप्रैल 2020 से फिर से शुरू किया जाएगा।

Also Read: 3 मई तक बढ़ा लॉकडाउन, पीएम ने कहा घर के बुजुर्गो का रखे ख्याल

ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस ने केंद्र सरकार से टोल संग्रह(टोल वसूली) शुरू करने के फैसले पर पुनर्विचार करने को कहा है। ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस(एआईएमटीसी) के अध्यक्ष कुलतारन सिंह अटवाल ने एक सख्त टिप्पणी में कहा कि सरकार को इस क्षेत्र पर कोई वित्तीय बोझ डालने से पहले अपने फैसले पर पुनर्विचार करना चाहिए, जो पहले से ही अर्थव्यवस्था के तहत लॉकडाउन के कारण गिर गया है।

Leave a Reply