Skip to content
Advertisement

शिक्षा को लेकर सीएम का मंशा स्पष्ट- राज्य के 40 लाख बच्चों को देंगे स्कूल बैग

News Desk

शिक्षा विभाग ने वित्तीय वर्ष 2023-24 में 40,98,934 छात्र-छात्राओं को स्कूल बैग देने का निर्णय लिया है। बच्चों को अभ्यास पुस्तिका व लेखन सामग्री के साथ स्कूल बैग दिया जाएगा।

सरकारी स्कूलों के बच्चों को स्कूल बैग दो सालों में एक बार दिया जाता है। इससे पहले 2021 में उन्हें स्कूल बैग दिये गये थे। क्लास के आधार पर बच्चों को छोटे व बड़े स्कूल बैग दिये जाएंगे। इसी आधार पर इसकी कीमत तय की गई है। वहीं, स्कूल किट के लिए भी 85 रुपये से लेकर 305 रुपये तक बच्चों को दिये जाने हैं।

सरकार ने यह भी तय किया है कि जिन छात्र-छात्राओं के माता-पिता ने विगत वर्ष अनुदान की राशि से जूते नहीं खरीदे थे, उन्हें इस वर्ष इस मद की राशि से वंचित किया जा सकता है। इसके लिए जिलों से रिपोर्ट मांगने की भी तैयारी की जा रही है।

Also Read: सीएम हेमंत सोरेन के दूरदर्शी फैसलों ने किया राज्य के वित्तीय प्रबंधन को दुरुस्त

राज्य के सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे 40 लाख बच्चों को राज्य सरकार बैग देगी। इसी बैग में बच्चे कॉपी-किताब रखकर स्कूल आएंगे। वहीं, वित्तीय वर्ष 2022-23 में जिन अभिभावकों ने स्कूल किट की राशि से अपने बच्चे के लिए जूते नहीं खरीदे हैं उन्हें वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए स्कूल किट की राशि नहीं दी जाएगी। स्कूली शिक्षा व साक्षरता विभाग ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है।

Advertisement
शिक्षा को लेकर सीएम का मंशा स्पष्ट- राज्य के 40 लाख बच्चों को देंगे स्कूल बैग 1