Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on email
Share on print
Share on whatsapp
Share on telegram

defaultदिल्ली में 2020 के विधानसभा चुनाव प्रचार का आज आखरी दिन है ऐसे में सत्ता दल आम आदमी पार्टी, भाजपा और कांग्रेस के बीच जमकर ट्विटर वॉर चला है. प्रत्येक राजनितिक दल ने ट्विटर ट्रैंड के माध्यम से अपनी ताकत दिखने की कोशिश की है.

दिल्ली में 2020 विधानसभा चुनाव के लिए आठ फ़रवरी को वोट डाले जायेंगे जिसके लिए 6 फ़रवरी के शाम 6 बजे तक चुनाव प्रचार की समय अवधि निर्धारित है. इसके बाद से कोई राजनितिक पार्टी चुनावी सभा नहीं कर सकेगी। पार्टी के कार्यकर्त्ता डोर टू डोर अपनी पार्टी के विचारो को लोगो तक पंहुचा सकते है.

Also Read: क्या नागरिकता क़ानून को लेकर गांधी के नाम पर प्रधानमंत्री और गृहमंत्री दोनों ही झूठ बोल रहे हैं?

दिल्ली का विधानसभा चुनाव इसबार दिलचस्प होने वाला है क्यूंकि इस चुनाव में राजनीतिक दल के नेताओ ने भाषा की मर्यादा को लांघते हुए सारी हदो को पर कर गए. भाजपा के कई ऐसे नेता है जिनका नामन हेट स्पीच देने वालो में जुड़ गया है. केंद्र में वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने दिल्ली के एक सभा में विवादित बयान देते हुए कहा की देश के गद्दारो को गोली मारो सालो को तो वही भाजपा के एक और नेता ने मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को आतंकवादी तक कह दिया जिसके लिए भारतीय निर्वाचन आयोग ने उनपर सात दिनों का बैन लगा दिया था.

शाहीनबाग़ और भारतीय नागरिकता कानून जैसे मुद्दों को दिल्ली के चुनाव में खूब इस्तेमाल हुए है. शाहीनबाग़ में हो रहे प्रदर्शन के लिए कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने भाजपा को जिम्मेदार ठहराया है तो वही भाजपा ने शाहीनबाग़ को बड़ा चुनावी मुद्दा बना दिया। दिल्ली की एक चुनावी सभा में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था की शाहीनबाग़ का प्रदर्शन कोई संयोग नहीं है बल्कि ये पूरी तरीके से प्लान करके किया जा रहा है. मालूम हो की अनुराग ठाकुर के दिए बयान के बाद शाहीनबाग़ में गोली चलने की घटना घाटी थी. और फिर दूसरी घटना जामिया में घाटी थी.

https://twitter.com/beingarun28/status/1225363745959841792?s=20

दिल्ली के चुनाव में मुख्य विरोधी भाजपा और आम आदमी पार्टी है तो वही कांग्रेस तीसरे स्थान पर है. कांग्रेस ने अपने शासन कल को याद दिलाते हुए दिल्ली की जनता से फिर एक बार भरोसा करने की अपील कर रहे है.आम आदमी पार्टी अरविन्द केजरीवाल के पांच सालो की उपलब्धियों को गिना रही है. तो वही भाजपा ने अरविन्द केजरीवाल की कमियों को गिनाते हुए दिल्ली में भाजपा के पक्ष में की अपील कर रहे है.

Also Read: जामिया में गोली चलाने वाले को बंदूक देने वाला धराया- नाम और पेशा जान चौक जायेंगे आप

ट्विटर पर तीनो दलों के कार्यकर्त्ता और नेता साथ ही तीनो की आईटी सेल अपना-अपना दम दिखा रही है. कांग्रेस की तरफ से “दिल्ली में आ रही है कांग्रेस” ट्रैंड करवाया जा रहा है जबकि आम आदमी पार्टी की तरफ से “वोट फॉर झाड़ू” तो वही भाजपा “दिल्ली में कमल खिल रहा है” ट्रैंड करवा रही है. हालांकि देखना दिलचस्प होगा की 11 फ़रवरी को आने वाले नतीजे किसकी तरफ होगी।

Leave a Reply