Skip to content
lalu yadav
Advertisement

CBI के विशेष अदालत ने राजद सुप्रीमो लालू यादव को डोरंडा कोषागार अवैध निकासी (चारा घोटाला) के 5वां केस में 5 साल की सजा सुनाई।

md saddam

रांची। डोरंडा कोषागार अवैध निकासी 139 करोड़ (चारा घोटाला) के सबसे बड़े मामले में राजद के सुप्रीमो एवं बिहार सरकार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव को सोमवार के दिन सीबीआई के विशेष जज एसके शशि ने 5 साल की सजा सुनाई एवं रु 60 लाख का अतिरिक्त जुर्माना भी भरना होगा।
रांची में सीबीआई जज ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर सजा का ऐलान किया।
लालू यादव समेत 40 दोषियों को सजा सुनाई गई।
40 लोगों में 5 को 5 साल 3 को 3 साल एवं 32 लोगों को 4-4 साल का सजा सुनाया गया।
लालू की ओर से उनके अधिवक्ता ने बहस के दौरान  कहा कि उनकी सजा आधी काटी गई है और उनका तबीयत खराब रहने के कारण उन्हें कम से कम सजा दिया जाए वहीं सीबीआई के अधिवक्ता ने ज्यादा से ज्यादा सजा सुनाने का अपील किया।

Leave a Reply