Skip to content
EYel4jzXgAUPJtl

युवा कांग्रेस ने एक दिन का NYAY देकर केंद्र सरकार से वंचित के लिए 6 महीने के लिए NYAY की मांग की है

tnkstaff

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी की 29वीं शहादत दिवस पर युथ कांग्रेस ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी और राहुल गाँधी के निर्देश पर न्याय अभियान की शुरुआत की जिसके तहत 1 दिन के लिए एक प्रतीकात्मक NYAY के रूप में देश भर में वंचित लोगों को सीधे नकद वितरित किया और केंद्र सरकार से 6 महीने के लिए वंचित लोगों को NYAY प्रदान करने का अनुरोध युवा कांग्रेस के द्वारा किया गया।

Advertisement

राजीव गाँधी की शहादत दिवस पर दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय में गरीब और असहाय लोगो को 1 दिन की आर्थिक सहायता दी गयी. झारखंड युथ कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता कुणाल शुक्ला ने प्रेस नोट जारी करते हुए कहा की भारतीय युवा कांग्रेस ने राष्ट्र भर के वंचित लोगों को 1 दिन के लिए NYAY दिया। श्री राजीव गांधी जो की आधुनिक भारत के दूरदर्शी नेता थे और जिन्होंने भारत को मजबूत और आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में काम किया।

Also Read: राजधानी राँची में शुरू हुई शराब की “होम डिलीवरी”, जानिए कौन कर रहा है यह काम

IYC के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी ने कहा, “यह अभियान NYAY योजना का एक हिस्सा है, जिसकी वकालत राहुल गांधी ने की है, जो वंचित लोगों और उनके परिवारों की मदद के लिए एक प्रभावी योजना है। NYAY योजना के अंतर्गत, IYC की मांग है कि केंद्र सरकार 6 महीने के लिए प्रति व्यक्ति 6,000 रुपये की वित्तीय सहायता दे, और साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में इसके तहत कार्यरत लोगों के लिए मनरेगा के लाभों को दोगुना करने का काम करे.

राजीव गांधी जी को श्रद्धांजलि के रूप में सभी IYC राज्य टीमों, भारत भर में यूथ कांग्रेस के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने, जो गरीब या असहाय लोगों को डूबती अर्थव्यवस्था, या कोरोना वायरस महामारी और केंद्र सरकार द्वारा घोषित अनियोजित तालाबंदी, के आर्थिक प्रभावों के कारण अपनी नौकरी खो चुके हैं, उनको 1 दिन के NYAY के तौर पर धनराशि का वितरण किया ।

Also Read: राहुल और प्रियंका गाँधी के आदेश पर, युथ कांग्रेस की टीम ने सासाराम की महिला को पहुँचाया घर

आगे उन्होंने कहा की लॉकडाउन के पहले दिन से ही कांग्रेस नेता राहुल गांधी उन सभी लोगों की मदद करने के लिए सरकार पर जोर देते रहे हैं, जिन्हें वित्तीय सहायता की तत्काल आवश्यकता है। लॉकडाउन ने देश की आबादी के विभिन्न वर्गों को बेरहमी से प्रभावित किया है, क्योंकि आज भारत में हर 4 व्यक्तियों में से कम से कम एक बेरोजगार है। मदद का हाथ बढ़ाते हुए कांग्रेस ने वित्तीय सहायता के रूप में इनको एक दिन का NYAY दिया । इस दिन को राजीव गांधी के एक समतावादी देश के दृष्टिकोण को याद करने और उनके योगदान और हमारे इस महान राष्ट्र के लिए उनके द्वारा किए गए बलिदानों को याद करने के लिए चुना गया था।

IYC के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास ने 5, रायसीना रोड पर स्थित IYC राष्ट्रीय कार्यालय में एक रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया। श्रीनिवास बी.वी जी. ने हजारों लोगों की तत्काल वित्तीय और चिकित्सीय आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए IYC के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से आग्रह किया कि वे आगे आएं और सभी जरूरतमंद लोगों की मदद करें।

Also Read: एयरलाइंस ने शुरू की टिकट बुकिंग, जानिए कब से शुरू हो रही है हवाई यात्रा, दिल्ली से रांची के लिए क्या होगा किराया

उन्होंने आगे कहा, “कांग्रेस अपने यूथ विंग के साथ लॉकडाउन के पहले दिन से एकमात्र ऐसा राजनीतिक संगठन है जो दिल्ली में और अन्य जगहों पर भी लोगों के लिए भोजन, आश्रय, सैनिटाइज़र, मास्क और अन्य आवश्यक चीजें प्रदान करने के लिए दिन-रात काम कर रहा है। राज्य इकाइयों राज्य इकाइयां भी लोगों की यथासंभव मदद करने के लिए तत्परता से दिन रात जुटी हुयी हैं ” यह कांग्रेस और उसके महान नेताओं का आदर्श है कि इसके सदस्य जमीनी स्तर पर सहजता से काम कर रहे हैं और अब लोगों के खातों में प्रत्यक्ष निधि लाभ खुद डालकर NYAY की वकालत कर रहे हैं। यह बहुत दुखद है कि सरकार ने अभी तक ऐसी कोई योजना लागू नहीं की है जो संकट में पड़े लोगों की आर्थिक मदद करे।

IYC प्रभारी श्री कृष्ण अल्लवरु जी ने कहा, “भोजन की निरंतर कमी के साथ, जीवन यापन करने का कोई तरीका नहीं है और सरकार ने उनकी समस्याओं पर आंखें मूंद ली हैं, और कई प्रवासियों, बेरोजगारों और अपनी नौकरी और अपने परिवारों को खोने वाले लोगों को पीड़ित होने के लिए छोड़ दिया गया है। उनकी तरह ही लाखों अन्य गरीब लोग भी पीड़ित हैं। इन लोगों को भगवान की दया पर सरकार द्वारा छोड़ दिया गया है, लेकिन यह ध्यान रखना चाहिए कि इन लोगों ने इस देश को बनाने और विकसित करने में मदद की है और अब इन पर घोर अन्याय हो रहा है। हमारे द्वारा सुझाए गए NYAY को लागू करना, इन अभावग्रस्त लोगों के लिए आजीविका सुनिश्चित करने का एकमात्र तरीका है।”

मालूम हो की पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी की शहादत दिवस पर युथ कांग्रेस ने लॉकडाउन के कारण अपना रोजगार का साधन खो चुके लोगो को 200 प्रत्येक दिन के हिसाब से देकर NYAY अभियान की शुरुआत की गयी और केंद्र सरकार से मांग की गयी की गरीब और वंचित लोगो को 6,000 प्रति माह के हिसाब से दिया जाये

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches