Ozone-layer

कोरोना वायरस महामारी के बीच ये देख हैरान हुए वैज्ञानिक

tnkstaff
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket
Ozone-layer

ओजोन परत में इतिहास का सबसे बड़ा छेद अपने आप ठीक हो गया। इसे देखकर वैज्ञानिक भी हैरान रह गए हैं।
पृथ्वी के उत्तरी और दक्षिणी ध्रुवों के ऊपर ओजोन परत है। एक ओर खतरनाक कोरोना वायरस की वजह से दुनिया के कई देशों में लगाए गए लॉकडाउन के कारण दक्षिणी ध्रुव की ओजोन परत का छेद कम हुआ है वहीं दूसरी ओर उत्तरी ध्रुव की ओजोन परत में एक बड़ा छेद भी पूरी तरह ठीक हो गया। वैज्ञानिक इसे अब तक के इतिहास का सबसे बड़ा छेद मान रहे थे।

Advertisement

उत्तरी ध्रुव धरती का आर्कटिक वाला क्षेत्र। वैज्ञानिकों ने माना कि उत्तर ध्रुव के ऊपर एक ताकतवर पोलर वर्टेक्स बना हुआ थी। इस क्षेत्र में बहुत ऊंचाई पर स्थित स्ट्रेटोस्फेयर पर बन रहे बादलों के कारण ओजोन पतली हो रही थी। क्लोरोफ्लोरोकार्बन्स और हाइड्रोक्लोरोफ्लोरो की मात्रा का बढऩा भी इसका कारण माना जा रहा था।CAMS रिसर्च ने ट्वीट कर दी जानकारी

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Related News

Popular Searches