Skip to content
Jamaat1-1280x720

सहारनपुर पुलिस ने कहा, तब्लीग़ी जमात के लोगो द्वारा नॉन-वेज मांगने और खुले में शौच की बात निकली झूठी

Arti Agarwal

भाजपा शासित राज्य उत्तर प्रदेश में कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया पर एक खबर तेजी से वायरल हुई जिसमे कहा जा रहा था की तब्लीग़ी जमात से जुड़े लोगो को क्वारंटाइन में रखा गया है, जहाँ उन्होने खाने में नॉन-वेज माँगा और खुले में शौच कर दिया। जमातियों के द्वारा अश्लील हरकते भी की गयी. खबर को वायरल होते देख इस पर जांच कमिटी बनी और सहारनपुर पुलिस ने इसे महज एक अफवाह बताया।

Advertisement

Also Read: पीएम की अपील पर बत्ती बुझेगी आज, पावर ग्रिड को संभालना होगी चुनौती, तो वही कांग्रेस हुई हमलावर

सहारनपुर पुलिस ने एक प्रेस नोट जारी करते हुए कहा की “हम यह बताना चाहते हैं कि हमने रामपुर मनिहारन के थाना प्रभारी को विभिन्न समाचार पत्रों, समाचार चैनलों और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म द्वारा किए गए दावों को सत्यापित करने के लिए निर्देशित किया, जांच के बाद, यह पाया गया कि विभिन्न समाचार पत्रों, समाचार चैनलों के सोशल मीडिया प्लेटफार्मों द्वारा किए गए दावे नकली थे। इसलिए, सहारनपुर पुलिस उपरोक्त प्रकाशित समाचार वस्तुओं को पूरी तरह से खारिज करती है। ”

Also Read: बोकारो में मिला झारखण्ड का तीसरा कोरोना पॉजिटिव, लोगो को सतर्क रहने की जरुरत

सहारनपुर पुलिस ने एक प्रसिद्ध हिंदी समाचार चैनल के एक समाचार फ्लैश पर भी प्रतिक्रिया व्यक्त की, जिसने जामातिस और मुस्लिम समुदाय को अपमानित करने के लिए उकसाने वाली सुर्खियां बनाईं।

जब से दिल्ली पुलिस ने निजामुद्दीन मरकज से तब्लीगी जमात के सदस्यों को निकाला, तब से भारतीय मीडिया के कुछ न्यूज़ चैनल और पत्रिकाएं लगातार भारत के मुस्लिम समुदाय के खिलाफ एक प्रेरित अभियान चला रहे हैं। कुछ ने दावा किया था कि जमातियों ने डॉक्टरों और पुलिस पर थूका हैं जबकि अन्य ने नर्सों के साथ दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया है। पुलिस वाले पर थूकने वाला वीडियो भी झूठा था. उस वीडियो का तब्लीग़ी मरकज़ से कोई लेना देना नहीं था.

Also Read: उत्तरप्रदेश में 19 वर्ष के युवक ने 8 साल की बच्ची का किया रेप, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

हालांकि, एक महिला जो एक चिकित्सा अधिकारी होने का दावा करती है, जो निज़ामुद्दीन मरकज़ से लोगो को निकालने वाली टीम का हिस्सा थी, उसने खुलासा किया है कि किसी ने भी उनके साथ दुर्व्यवहार नहीं किया था।

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches