Tejaswi Yadav

तेजस्वी ने नितीश सरकार को बिहार के लिए बताया “खरपतवार” कहा, ख़ुशहाली और बेहतरी के लिए उखाड़ फेंकना होगा

News Desk
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

आने वाले कुछ महीनो में बिहार के विधानसभा सीटों पर चुनाव होना है ऐसे में एक दुसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. बिहार के विधानसभा में मुख्य रुप से दो पार्टियां राजद और जदयू आमने-सामने होने. तो वही मुख्यमंत्री कि रेस में महागठबंधन कि तरफ से तेजस्वी यादव और एनडीए कि तरफ से नितीश कुमार होंगे. बिहार विधानसभा का चुनाव दिलचस्प होने वाला है.

Advertisement

राजद नेता व बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने CM नितीश कुमार पर हमला बोलते हुए उन्हें खरपतवार करार दिया है. तेजस्वी ने ट्वीट कर उनपर हमला बोला है. अपने ट्वीट में तेजस्वी ने कहा है “बीजेपी नीत नीतीश सरकार बिहार के लिए खरपतवार बन चुकी है। बिहार की ख़ुशहाली और बेहतरी के लिए अबकी बार इस खरपतवार को उखाड़ फेंकना होगा तभी बिहार में फलदायक किसानी, रोजगार और उद्योगों की अच्छी फसल लहराएगी।” इस बयान सेतेजस्वी बिहारकि जनता को साफ़ सन्देश देना चाहते है कि बिहार अब नितीश कुमार को नहीं चाहती है और बदलाव के लिए पूरी तरह से तैयार है.

Also Read: “मिट्टी में मिल जायेंगे BJP में नहीं जायेंगे” कहने वाले नितीश मोदी के साथ चुनावी मैदान में होंगे

रविवार को राज्यसभा से किसान बिल पास होने के बाद तेजस्वी यादव ने बिहार में बिल के खिलाफ आंदोलन करने कि घोषणा बात कही है. इस बयान को उससे भी जोड़ कर देखा जा रहा है. कुछ राजनितिक विशेषज्ञयों का मानना है कि तेजस्वी ने यह बयान इसलिए दिया ताकि वो नितीश कुमार को बिहार के किसानो के खिलाफ कार्य करने वाला साबित कर पाए क्यूंकि नितीश NDA का हिस्सा है. किसान बिल का असर बिहार में साफ़ देखने को मिल सकता है. और आने वाले चुनाव में इसका परिणाम दिखने वाला है. .

तेजस्वी यादव ने कृषि विधेयक पास होने पर आंदोलन करने कि घोषणा कि है. राजद 25 सितंबर को पुरे बिहार में आंदोलन करेगा. आंदोलन के ज़रिये तेजस्वी बिहार के किसानो को यह भरोसा दिलाना चाहते है कि नितीश कुमार और NDA सिर्फ उन्हें छलने के लिए है जबकि राजद हमेशा उनके साथ खड़ा है.

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Related News

Popular Searches