Skip to content
Advertisement

BBMKU Dhanbad: UG में नामांकन लेने से चुके छात्रों को फिर मौका देने पर फैसला कल, एडमिशन कमिटी की बुलाई गई बैठक

Advertisement
BBMKU Dhanbad: UG में नामांकन लेने से चुके छात्रों को फिर मौका देने पर फैसला कल, एडमिशन कमिटी की बुलाई गई बैठक 1

BBMKU Dhanbad: बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय में स्नातक स्तर (UG Admission) पर नामांकन लेने से चूके छात्र-छात्राओं को नामांकन लेने का एक और मौका देने का विकल्प तलाश रहा है. धनबाद और बोकारो के ऐसे कई छात्र-छात्राएं हैं जो मेरिट लिस्ट में नाम आने के बाद भी नामांकन नहीं ले सके है. विश्वविद्यालय की तरफ से नामांकन के लिए जारी की गई तारीख समाप्त होने के बाद नामांकन लेने से चुके विद्यार्थियों को कॉलेजों का चक्कर लगाना पड़ रहा है ऐसे छात्रों ने कॉलेज और विश्वविद्यालय को आवेदन भी दिया है.

Advertisement
Advertisement

ऐसे मामलों की फाइल तैयार कर ली गई है अगर नामांकन ना लेने का कारण तर्कसंगत रहा तो दोबारा अनुमति दी जा सकती है इसे लेकर शनिवार को बीबीएमकेयू में एडमिशन कमेटी की अहम बैठक बुलाई गई है. बैठक में डीएसडब्ल्यू, एडमिशन सेल की चेयरमैन, एडमिशन कमिटी में शामिल कॉलेज के प्राचार्य, डीन और विभागाध्यक्ष मौजूद रहेंगे. स्नातक नामांकन की पहली लिस्ट और खाली सीटों के लिए जारी दूसरी लिस्ट की मौजूदा स्थिति की समीक्षा के बाद कमेटी इस मामले में निर्णय लेगी. इसकी पूरी संभावना है कि एडमिशन लेने से वंचित छात्रों को एक और मौका दिया जा सकता है.

Also Read: SSLNT कॉलेज धनबाद (SSLNT College Dhanbad) में अब पुरुष भी ले सकेंगे दाखिले, जानिए पूरी खबर

बता दे कि, बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय के अधीन आने वाले धनबाद और बोकारो के कॉलेजों में ऑफलाइन पढ़ाई शुरू करने का निर्णय अगले सप्ताह होगा. राज्य सरकार ने ऑफलाइन कक्षाओं के संचालन की अनुमति दे दी है परंतु विश्वविद्यालय को अब तक सरकार का पत्र नहीं  मिला है जिस कारण ऑफलाइन कक्षा लेने पर असमंजस की स्थिति है. शनिवार तक सरकार के पत्र की प्रतीक्षा के बाद अगले सप्ताह विश्वविद्यालय से कॉलेजों के लिए दिशानिर्देश जारी हो जाएगा. विश्वविद्यालय ने 4 अक्टूबर से नए सत्र की कक्षाएं शुरू करने की घोषणा कर दी है. संभावना है कि नए सत्र में दाखिला लेने वाले छात्र-छात्राओं की पढ़ाई पहले की तरह कॉलेजों में होगी हालांकि राज्य सरकार के द्वारा जारी कोरोना गाइडलाइन के आधार पर ही इसका निर्णय होगा.