Skip to content
vishakha-patnam-gas-tragedy

विशाखापट्टनम गैस लीक: PM मोदी ने बुलाई बैठक, ऐसे हुआ हादसा

tnkstaff
vishakha-patnam-gas-tragedy

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम के केमिकल प्लांट में गैस लीक होने से अब तक आठ लोगों की मौत हो चुकी है. 800 सौ से ज्यादा लोग अस्पताल में भर्ती हैं, इस हादसे पर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री सहित कई नेताओं ने दुख प्रकट किया है. पीएम मोदी ने पहले आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री से बात की फिर आपात बुलाई.

Advertisement

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में गैस लीक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीएम जगन मोहन रेड्डी, गृह मंत्रालय और एनडीएमए के अधिकारियों से बात की. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय पूरी स्थिति पर नजर बनाए हुए है और हर संभव मदद की कोशिश की जा रही है. इसके साथ ही पीएम मोदी ने सबकी सुरक्षा और अच्छे सेहत की कामना की है.

हादसे को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी की अगुवाई में एनडीएमए की बैठक हुई. बैठक में गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृहराज्य मंत्री जी किशन रेड्डी मौजूद रहे. इसके अलावा डिसास्टर मैनेजमेंट से जुड़े आला अधिकारियों की मौजूदगी में पीएम मोदी ने हर संभव मदद का निर्देश दिया है.

प्लास्टिक फैक्टरी को चालू करने की तैयारी के बीच हुआ गैस रिसाव: एनडीआरएफ

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) प्रमुख ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान विशाखापत्तनम में बंद पड़ी प्लास्टिक की एक फैक्टरी में काम-काज पुन: शुरू करने की तैयारी हो रही थी कि इसी दौरान गैस रिसाव की घटना हुई। एनडीआरएफ महानिदेशक एस एन प्रधान ने बताया कि यह स्टाइरीन गैस है जो केंद्रीय तंत्रिका तंत्र, गले, त्वचा, आंखों और शरीर के कुछ अन्य अंगों को प्रभावित करती है।

राहुल गाँधी ने की मदद की अपील

वहीं, राहुल गांधी ने घटना पर अफसोस जाहिर करते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मदद की अपील की है. राहुल ने कहा, ‘मैं कांग्रेस कार्यकर्ताओं-नेताओं से अपील करता हूं कि वे प्रभावित लोगों को सभी जरूरी मदद करें. उन लोगों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं, जो किसी अपने को खो चुके हैं. मैं प्रार्थना करता हूं कि अस्पताल में भर्ती शीघ्र स्वस्थ हों

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches