Skip to content

झारखंड में भी उठा “लव-जिहाद” पर कानून बनाने की मांग, BJP के सासंद बोले कठोर कानून बने

Shah Ahmad

भाजपा शासित राज्यों में लव जिहाद पर कानून बनाने की मांग तेज हो गई है वहीं कई भाजपा शासित राज्य हैं जैसे उत्तर प्रदेश हरियाणा मध्य प्रदेश वे लव जिहाद पर कानून बनाने की तैयारी में लगे हुए हैं लेकिन इलाहाबाद हाई कोर्ट का एक जजमेंट आया है जिसमें कहा गया है कि लव जिहाद गैर संवैधानिक है और भारत का संविधान दो बालिक लोगों को एक साथ रहने का अधिकार देता है

Advertisement

लव जिहाद पर कानून बनाने को लेकर झारखंड में भी मांग उठने लगी है झारखंड में रांची से भाजपा के सांसद संजय सेठ ने लव जिहाद पर कानून बनाने की वकालत की है संजय सिंह ने कहा कि झारखंड में भी लव जिहाद के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं झारखंड की हजारों बहने व बेटियां इसकी शिकार हो चुकी हैं पहले प्रेम उसके बाद विवाह और फिर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया जाता है कई महीनों से ऐसी खबरें सामने आ रही हैं या कोई छोटा मामला नहीं है सांसद संजय सेठ ने एक पत्र लिखकर झारखंड में लव जिहाद पर कानून बनाने की मांग की है.

Also Read: किसी भी शख्स को अपनी जीवन साथी चुनने का संविधानिक अधिकार:- इलाहाबाद हाईकोर्ट

सांसद संजय सेठ ने अपने पत्र में कहा है कि लव जिहाद से समाज के भीतर ताना-बाना टूटता है बल्कि सामाजिक सद्भाव भी बिगड़ता है साथ ही एक दूसरे की विश्वसनीयता पर भी सवाल उठता है आगे उन्होंने कहा कि बीते एक दशक में झारखंड राज्य के भीतर इस तरह के हजारों मामले सामने आ चुके हैं कई मामले पुलिस के सामने आए लेकिन कई मामले पुलिस के सामने हम भी नहीं आए हैं कुछ लोग अपनी पहचान छुपाकर बहन बेटियों से शादी करते हैं बाद में उनका धर्म परिवर्तन करने का दवा बनाते हैं

Also Read: BJP सांसद जयंत सिन्हा ने हेमंत सरकार पर लगाया राज्य का खजाना खाली करने का आरोप

संजय सेठ ने मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश राज्य की सरकारों का हवाला देते हुए भी झारखंड सरकार से मांग की है कि वह भी लव जिहाद पर कानून बनाने संबंधित प्रस्ताव लाए ताकि बहन बेटियां और उनका भविष्य सुरक्षित हो सके उन्होंने अपने पत्र में कहा है कि जमशेदपुर चतरा रांची दुमका हजारीबाग गिरिडीह और धनबाद जैसे जिलों से ऐसे मामले देखने को मिलते हैं झारखंड की बहन बेटियों की प्रतिष्ठा को देखते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को इस दिशा में आवश्यक कदम उठाने की जरूरत है

Leave a Reply