Skip to content
Advertisement

Jamtara News: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने जामताड़ा को दी 200 करोड़ की सौगात, कहा- जो 20 वर्षों में नहीं हुआ वो 2 साल में हुआ है

News Desk

Jamtara News: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सोमवार को जामताड़ा जिले के गाँधी मैदान में आयोजित उद्घाटन/शिलान्यास एवं परिसंपत्ति वितरण कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए अपने विकास की योजनओं को गिनाया साथ ही आने वाले समय में झारखंड की विकास के विज़न को भी जनता के बीच राखा.

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि मेरा आपके बीच आने का मुख्य उद्देश्य है आप सबों तक सरकार द्वारा आपके हित की योजनाओं को पहुँचाना। हमारी सरकार ड्राइव चलाकर गाँव-गाँव जाकर वृद्धजनों को पेंशन योजना से जोड़ने का काम कर रही है। सरकार आपके द्वार योजना को फिर से चलाया जाएगा, जिससे राज्य के दुर्गम क्षेत्रों में बसे लोगों तक सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को पहुँचाया जा सके। मौके पर मुख्यमंत्री ने गांधी मैदान स्थित सिदो-कान्हू के प्रतिमा पर माल्यार्पण भी किया।

युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिये सरकार कर रही सहायता:

सीएम ने कहा कि राज्य के आदिवासी, दलित, गरीब अथवा आर्थिक रूप से कमजोर बच्चे जो विदेश में उच्चस्तरीय शिक्षा के लिए जा रहे हैं, उनका पूरा खर्च सरकार उठा रही है। हमारे राज्य की लड़कियां विश्व में अपने खेल से राज्य का नाम रोशन कर रही है। उनके लिए सरकार सभी तरह की सहायता उपलब्ध कराने का कार्य कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम योजनाबद्ध तरीके से रोजगार के सृजन का कार्य कर रहें है। आज युवा किसी भी तरह का व्यवसाय करना चाहते हैं तो उन्हें सरकार कम दरों पर लोन दिलाने का काम कर रही है। पहले बैंक लोन देने में दिक्कत करती थी आज सरकार आपके साथ खड़ी है। हम हर तरह से युवाओं के रोजगार उपलब्ध कराने में सहायता कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज राज्य में नियुक्तियां भी जोरों पर चल रही है। मात्र 250 दिनों में जेपीएससी के अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र देने का कार्य किया गया है। हमने 4 गुना अधिक बच्चों को 4 गुना अधिक सेंटर 4 गुना कम समय में बहाली कराया है। उन्होंने कहा कि मौसम आज आंख-मिचौली कर रही है ऐसे में कौन सा फसल किसान लगाएं और भी खेती से संबंधित समस्याओं के समाधान के लिए हमने कृषि विभाग में नियुक्तियां करके इस तरह के समस्या का भी समाधान निकालने का कार्य किया है। हमारी सरकार ने किसानों के बीच 15 से 16 लाख केसीसी कार्ड वितरण करने का काम किया है, जिससे आज हमारे किसान खेती से जुड़े उपकरण से लेकर खाद-बीज आदि भी खरीद सकते हैं।

इसे पढ़े- झारखंड के इस जिले में होगी 1405 होमगार्ड जवानों की बहाली, जल्द शुरू की जाएगी आवेदन की प्रक्रिया

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि 2 साल तक कोरोना महामारी में हम सभी फंसे रहे। हमारे राज्य की 80 प्रतिशत जनता मजदूर, किसान है उनके हितों की रक्षा के लिए हमने मजबूती से उनके साथ खड़े रहने का काम किया है। इस महामारी ने हमारे बीच से कई अपनो को छीन लिया, अभी भी आम जीवन अस्त व्यस्त है। हम सब मिलकर फिर से उसे पटरी पर लाने का प्रयास कर रहें है। सरकार योजना बनाकर उसे धरातल पर लाने का कार्य कर रही है।

हर वर्ग के लोगों के विकास के लिए हो रहा योजनाबद्ध तरीके से काम:

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि हमारे राज्य के लोग बहुत गरीब है पिछली सरकार ने पेंशन की स्वीकृति को सीमित रखा था जिससे बहुत सारे बेसहारा बुजुर्ग इसके लाभ से वंचित रह जाते थे। हमारी सरकार ने उनके लिए कानून बनाकर सभी 60 वर्ष से अधिक के बुजुर्गों के लिए पेंशन लागू करवाने का काम किया है। सरकार उन्हें पेंशन उपलब्ध करा रही है। आप आज सीधे अधिकारी के पास जाकर अपने पेंशन के लिए आवेदन देकर पेंशन का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। कोई महिला कम उम्र में ही अगर विधवा हो जाती है तो उन्हें भी सरकार पेंशन देने का काम कर रही है। राशन कार्ड भी सीमित मात्रा में दिए गए थे उसे भी अब बढ़ाकर 15 लाख नए राशन कार्ड बनाए जाने का काम किया जा रहा है। हर वर्ग के लोग के जीवन यापन में सहायता हेतु हम योजनाबद्ध तरीके से जनहित की योजनाओं को लागू करने का काम कर रहे हैं। 20 वर्षों में सबसे अधिक इस बार धान अधिप्राप्ति की गई है, सरकार अधिक संख्या में राइस मिल खुलवाकर सरकार इसे प्रोसेस कर आम जनता तक पहुंचाने का कार्य कर रही है।

इसे पढ़े- झारखंड ऊर्जा विकास निगम में निकली भर्ती, नियुक्ति के लिए झारखंडी होना अनिवार्य

Advertisement
Jamtara News: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने जामताड़ा को दी 200 करोड़ की सौगात, कहा- जो 20 वर्षों में नहीं हुआ वो 2 साल में हुआ है 1