Skip to content

सीएम हेमंत ने कहा, जांच सही से हो तो हम समर्थन करेंगे गलत हो तो विरोध भी होगा CM Hemant Soren

News Desk

राँची के कांके रोड स्थित मुख्यमंत्री आवास के पास आज यानी शुक्रवार को भारी संख्या में हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) के समर्थकों और कार्यकर्ताओं का जुटान लगा रहा। साथ में सत्तापक्ष के विधायकों का भी जुटान लगा रहा।

Advertisement

सीएम हेमंत सोरेन ने मुख्यमंत्री आवास में समर्थकों व कार्यकर्ताओं को संबंधित किया। अपने संबंधोन में हेमंत सोरेन ने कहा कि एक- एक आदमी घर से निकले। साजिश का पर्दाफाश करें। झारखंड के लोग झुकना नहीं जानते। कोई हमें गोली- बंदूक से नहीं डरा सकता।

मुख्यमंत्री ने कहा जांच सही तरीके से हो तो हम समर्थन करेंगे पर जांच गलत हो तो विरोध भी होगा। हमारे मूलवासी आदिवासियों को विपक्ष भड़काने का काम कर रहा है, लेकिन मैं उनको बता दूं उनका षड़यंत्र सवा तीन करोड़ लोग पहचान लिया है। आज सरकार की लोकप्रियता जिस तरीके से बड़ रही है. जिस तरह के साथ सरकार पंचायत स्तर पर विकास कामों को पहुंचा रही है। ग्रामीणों की समस्या का समाधान कर रही है उनसे भाजपा वालों के पेट में दर्द हो रहा है।

Hemant Soren ने ED से पूछा जब मामला 8 साल का तो जाँच सिर्फ 2 साल का क्यों? किसे बचा रहे हो:

मुख्यमंत्री ने कहा कि कल हम ईडी ऑफिस गये थे। लगभग 8 घंटों तक उनके सवालों का जवाब दिया। हमने उनसे कहा आप जो आरोप लगाये हैं। क्या यह दो साल में पूरा हो सकता है। तो ईडी का कहना है कि यह 2 साल का आरोप नहीं हैं, जब 2 साल का आरोप नहीं है तो पूर्व सरकार को क्यों नहीं बोलते हो। हमने उनसे कहा कि अगर आप ईमानदारी से दूध का दूध और पानी का पानी करोगे तो सरकार का पूर्ण समर्थन एजेंसियों को मिलेगा।

Also Read: ED के समक्ष पेश होने से पहले सीएम Hemant Soren ने ED के कार्य और देश की भाजपा की नियत पर उठाए सवाल

मुख्यमंत्री ने कहा आख़िर गैर भाजपा शासित राज्यों पर ही ईडी की कार्रवाई क्यों हो रही है। आजतक सिर्फ व्यापारी ही देश का करोड़ों रुपये लेकर विदेश भाग रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा ने राज्य और युवाओं की बद से बदतर स्थिति बना दी है। दूसरी तरफ आदिवासी मूलवासी बच्चों को आज हमारी सरकार बीडीओ, सीओ बना रही हैं। रोजगार की व्यवस्था हो रही है। इंजीनियर की नियुक्ति हो रही है। मुख्यमंत्री ने कहा संघर्ष करना हम गरीबों के लिए सर्दियों का इतिहास रहा है। ढिशूम गुरु शिबू सोरेन को भी इन लोगों ने परेशान किया, लेकिन क्या हुआ। शिबू सोरेन के ऊपर कोई भी दाग नहीं लगा।

Leave a Reply