Skip to content
police arrest mica accused
Advertisement

गिरिडीह पुलिस नए खनन माफिया कारू वर्णवाल को किया गिरफ्तार, अभी भी इस कांड के चार आरोपी फरार

Arti Agarwal

झारखंड के गिरिडीह जिले के तीसरी प्रखंड अंतर्गत रखवा अभ्रक खदान में अवैध खनन के दौरान हुए हादसे में दो मजदूरों की मौत हो गई थी. मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए कारू वर्णवाल को गिरफ्तार किया है हालांकि अभी भी इस मामले के चार बड़े नामजद कामेश्वर भारती, पिंटू वर्णवाल, शैलेंद्र प्रसाद, मुन्ना मोदी फरार बताए जा रहे हैं.

मामले पर क्षेत्र के सर्किल इंस्पेक्टर परमेश्वर लियांगी का कहना है कि अवैध खनन में दो की मौत के मामले में प्राथमिकी दर्ज होने के बाद से ही अभियुक्तों को गिरफ्तार करने के लिए लगातार छापेमारी चल रही थी. एक को पकड़ा गया है बाकी भी पुलिस की गिरफ्त में जल्द ही आ जाएंगे. बता दें कि विगत 2 मार्च को तीसरी प्रखंड अंतर्गत मनसाडीह पंचायत के सक्सेकिया जंगल के पास रखवा मायका खदान में अवैध तरीके से अभ्रक निकालने के दौरान हादसा हो गया था.

Also Read: भारतीय टीम के पूर्व कप्तान धोनी ने मुड़वाया सिर! सोशल मीडिया पर तस्वीर हो रही है वायरल

इस खदान में हुए हादसे में दो युवक सतीश कुमार और रंजीत राय लगभग 500 फीट नीचे दब गए थे. इस घटना को गंभीरता से लेते हुए डीसी राहुल कुमार सिन्हा और एसपी अमित रेनू ने सख्त कार्रवाई के संकेत दिए थे दोनों अधिकारियों के निर्देश पर तीन एफआईआर दर्ज की गई है.

गिरफ्तारी दर्ज होने के बाद माफियाओं ने पैतराबाजी भी शुरू कर दी थी. मृतक के परिजनों को प्रलोभन देने का प्रयास किया जा रहा था इतना ही नहीं कारू वर्णवाल की तरफ से परिजनों को चेक भी दिया गया है. जिसकी जानकारी जब एसपी को लगी तो उन्होंने पदाधिकारियों को साफ कहा कि नामजदो को हर हाल में गिरफ्तार करना है. जिसके बाद पुलिस ने छापेमारी की और कारू वर्णवाल को गिरफ्तार कर लिया.

Leave a Reply