Skip to content
Advertisement

Jharkhand Congress: राहुल गांधी की सदस्यता जाने के खिलाफ़ कांग्रेस का सत्याग्रह, इरफ़ान अंसारी ने कहा- मोदी अकेले चलायें संसद

Shah Ahmad

Jharkhand Congress: कांग्रेस पार्टी के नेता और सांसद राहुल गांधी की लोकसभा से सदस्यता जाने के बाद देश में कांग्रेस पार्टी भाजपा और प्रधानमंत्री मोदी का विरोध कर रही है. झारखंड कांग्रेस भी पीछे नहीं है, प्रदेश के नेता और विधायक व सांसद भी राहुल गांधी के निष्कासन का विरोध कर रहे है.

झारखंड के जामताड़ा से कांग्रेस पार्टी के विधायक डॉ इरफ़ान अंसारी ने भी सत्याग्रह आंदोलन के माध्यम से मोदी सरकार का विरोध जताते हुए निष्कासन का विरोध किया है. इरफ़ान अंसारी ने कहा कि, देश में अब लोकतंत्र मर चुका है और ब्रिटिश राज चल रहा है। मैं अपने पार्टी के सभी विधायकों और सांसदों से अपील करूंगा कि वह इस्तीफा दे दें। ताकि मोदी अकेले पार्लियामेंट चला सके।

उन्होंने कहा कि सबसे पहला इस्तीफा देने का काम मैं करूंगा। दरअसल, राहुल गांधी की राहुल गांधी की सांसदी जाने के बाद कांग्रेस में काफी रोष देखा जा रहा है। इसे लेकर देशभर में एक दिवसीय ‘संकल्प सत्याग्रह कर रहे हैं।

Jharkhand Congress: राहुल गांधी की पदयात्रा से घबराई बीजेपी ने करवाई है यह कार्रवाई

विधायक ने कहा कि मोदी सरकार में जो कोई अडानी-अंबानी के खिलाफ आवाज उठाएगा उस पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को सिर्फ बोलने की कीमत चुकानी पड़ी और आनन-फानन में उनकी सदस्यता ले ली गई। विधायक ने कहा कि कांग्रेस पार्टी देश में 60 साल तक शासन किया। लेकिन, कभी भी बदले की भावना से राजनीति नहीं की।

Also Read: Koderma News: कोडरमा में दुनिया की पहली हॉस्पिटल ट्रेन में लोगों का होगा मुफ्त इलाज, ओपीडी की पूरी लिस्ट देखें

उन्होंने कहा कि अगर बदले की भवाना के साथ कांग्रेस राजनीति करते तो आज देश में नरेंद्र मोदी और अमित शाह का नामोनिशान नहीं होता। इस मौके पर उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की पदयात्रा से बीजेपी के लोग घबरा गए हैं। इन्हें डर सता रहा कि कहीं इनकी सत्ता ना छीन जाए। वहीं, उन्होंने कहा कि आज पूरा देश राहुल गांधी प्रकरण से आहत है और आने वाला 2024 लोकसभा चुनाव में भाजपा को उसका परिणाम भुगतना पड़ेगा। 

Advertisement
Jharkhand Congress: राहुल गांधी की सदस्यता जाने के खिलाफ़ कांग्रेस का सत्याग्रह, इरफ़ान अंसारी ने कहा- मोदी अकेले चलायें संसद 1