Categories
झारखंड पॉलिटिक्स

स्थानीय बेरोजगार और बाहरी मालामाल ऐसा नहीं चलेगा – विधायक अंबा प्रसाद

हज़ारीबाग जिले के बड़कगांव में एनटीपीसी और त्रिवेणी कंपनी के खिलाफ लम्बे समय से स्थानीय लोग विस्थापन की लड़ाई लड़ रहे है. मुआवजे में न्याय, नौकरी और अन्य अधिकारों सहित कई ऐसे मुद्दे है जिसे लेकर विस्थापितो द्वारा आंदोलन किया जा रहा है.

Advertisement

ALSO READ: तिथि हुई घोषित इस दिन जारी होगा JAC 10वीं का रिजल्‍ट, शिक्षा मंत्री JAC कार्यालय से रिजल्ट जारी करेंगे

स्थानीय बेरोजगार और बाहरी मालामाल ऐसा नहीं चलेगा - विधायक अंबा प्रसाद 2

मुआवजा, नौकरी, विस्थापन तथा प्रदूषण सहित 12 सूत्री मांग को लेकर ग्रामीणों द्वारा किए जा रहे विस्थापित प्रभावित अधिकार सत्याग्रह का आज तीसरे दिन है. इस आंदोलन में बड़कागांव की विधायक अंबा प्रसाद ने धरना स्थल पर पहुंचकर सत्याग्रह का समर्थन किया। विधायक अंबा प्रसाद अंदोलन शुरू होने के पहले दिन से ही धरना स्थल पर पहुँच रही है.

ALSO READ: झारखंड में सरकारी शिक्षकों का होगा कोरोना टेस्ट, रिपोर्ट आने के बाद ही पढ़ाने की मिलेगी अनुमति

धरने में पहुंची विधायक अंबा प्रसाद ने बड़ी बात कही है, उन्होंने कहा कि स्थानीय जनता बेरोजगार है और बाहरी मालामाल है ऐसा अब नहीं चलेगा जब तक विस्थापितों और प्रभावितों को रोजगार साथ ही उनके हक और मांग के अनुरूप मुआवजा, भूमि अधिग्रहण अधिनियम 2013 को लागू नहीं किया जाता है. जंगल जमीन का पट्टा नहीं दिया जाता, तब तक सत्याग्रह आंदोलन जारी रहेगा।

ALSO READ: झारखंड चैंबर्स ऑफ कॉमर्स ने JBVNL द्वारा प्रस्तावित बिजली दरों का विरोध किया

सत्याग्रह पर बैठे लोगों का कहना है कि सभी मांगो पर सहमति हेतु स्थानीय विधायक सहित ग्रामीणों, जिला प्रशासन तथा कंपनी के साथ त्रिपक्षीय सफल वार्ता होने तक सभी तरह के कंपनी के खनन, प्रेषण, परिवहन तथा निर्माण कार्य नहीं होगा

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *