Categories
झारखंड

बड़ा हादसा: गिरिडीह में जिंदा जलने से माँ, बेटी और पोती की मौत

झारखंड के गिरिडीह जिले के अंतर्गत बिरनी थाना क्षेत्र के बल्गो पंचायत के सलैयाडीह में आग लगने से मां, बेटी और पोती की जिंदा जलने से मौत हो गई है. तीनों अपने घर से कुछ दुरी पर पुआल पर सो रही थी. शुरुआती जानकारी के मुताबिक घटना रविवार देर रात की है परंतु आग लगने की वजह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाई है.

Advertisement

स्थानीय लोगों का कहना है कि हादसा आग सेकने के लिए इस्तेमाल की गई लकड़ियों से आग लगी है. वही लोगों ने कहा कि रविवार की रात आग की तेज लपटों को देखा तो उन्हें घटना की जानकारी मिली. लोगों ने अपने प्रयास से आग को बुझाया. मृतकों में मुद्रिका देवी, उसकी बेटी गुड़िया कुमारी और पोती जूलिया कुमारी शामिल है. घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवा दिया है.

Also Read: ग्रामीण क्षेत्रों में भी कनेक्शन पर देना होगा यूजर चार्ज, राशि कम आने पर मुखिया और जलसहिया करना पड़ेगा भुगतान

मृतक मुद्रिका देवी के बेटे सीताराम यादव का कहना है कि तीनों ही रोजाना घर से करीब 50 मीटर दूर पुआल पर सोती थी. रात के करीब 12:00 बजे पड़ोसी की नजर घर के बाहर पड़ी तो देखा कि आग की तेज लपटें निकल रही है. उन्होंने शोर मचाया तो परिजन और ग्रामीण भागते हुए मौके पर पहुंचे और आग को बुझाया. परंतु तब तक तीनों की जलने से मौत हो चुकी थी. बता दें की इससे पहले भी गिरिडीह जिले के पीरटांड़ थाना क्षेत्र में खलिहान में आग लगने की वजह से बुजुर्ग और नाबालिक के जिंदा जलकर मौत हो गई थी. जबकि 3 बच्चे झुलस गए थे यह हादसा भी देर तक सेकने के दौरान घटी घटना थी. 

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *