Skip to content

CM Hemant Soren की पहल पर मानव तस्करी की शिकार पहाड़िया जनजाति की 11 बच्चियां की घर वापसी

News Desk

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन (CM Hemant Soren) के सार्थक पहल का परिणाम है कि मानव तस्करी के शिकार राज्य के गरीब और भोले- भाले बच्चे -बच्चियों को रेस्क्यू कराने में लगातार सफलता मिल रही है।

इसी कड़ी में पहाड़िया जनजाति की 11 नाबालिग बच्चियों को रेस्क्यू कराया गया है । इन सभी बच्चियों को कल बेंगलुरु से रांची लाया जाएगा. ये सभी नाबालिग बच्चियां आज दोपहर 2: 40 बजे रांची एयरपोर्ट पहुंचेगी। ये सभी बच्चियां साहिबगंज और पाकुड़ जिले की रहने वाली हैं।

CM Hemant Soren मानव तस्करों के खिलाफ राज्य सरकार लगातार कार्रवाई कर रहा है

ज्ञात हो कि मानव तस्करों द्वारा यहां के गरीब परिवार के बच्चे बच्चियों को नौकरी का झांसा देकर बड़े शहर में बेचने के कई मामले सामने आ चुके हैं । इस सिलसिले में बच्चे बच्चियों को रेस्क्यू और मानव तस्करों के खिलाफ राज्य सरकार द्वारा गठित एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट लगातार कार्रवाई कर रही है और इसके सार्थक परिणाम भी सामने आ रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ रेस्क्यू कराए गए बच्चे बच्चियों के पुनर्वास की भी व्यवस्था सरकार के स्तर पर की गई है।

इसे भी पढ़े- Jharkhand School Of Excellence झारखंडी बच्चों के लिए सीएम हेमंत सोरेन ने उच्च शिक्षा में 100 प्रतिशत स्कॉलरशिप का किया प्रबंध