Skip to content
Advertisement

Palamu: सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना बालिकाओं के लिए साबित हो रही संजीवनी, 1 लाख से अधिक को अब तक मिला लाभ

Arti Agarwal

Palamu: झारखंड सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना पलामू प्रमंडल की बालिकाओं के उम्मीदों में पंख लगा रहा है. इस योजना से प्रमंडल की एक लाख से अधिक बालिकाओं को अबतक लाभ मिला है.

इस योजना से जुड़ने के कारण बालिकाओं को बेहतर शिक्षा ग्रहण करने में सहुलियत हो रही है. योजना के तहत सरकार की इस अनुदान राशि से एक ओर जहां बालिकाओं को उच्च शिक्षा ग्रहण करने में मदद मिल रही है।

वहीं दूसरी ओर बालिकाएं सशक्त हो रही हैं.  पलामू जिले में 47,366 से अधिक गढ़वा जिले में 30,375 एवं लातेहार जिले में 22,496 से अधिक बालिकाओं को इस योजना का लाभ दिया गया है. पलामू में कक्षा 8वीं में 11,340, 9वीं में 9,740, 10वीं की 9993, 11वीं की 7894, 12वीं की 6173 एवं 19-19 आयुवर्ग की 2226 बालिकाओं को इस योजना से लाभ दिया गया है.

Palamu: बच्चियों को मिलेगा एकमुश्त 20 हज़ार रुपयों की सहायता, उच्च शिक्षा प्राप्त करने में मिल रही है मदद

गढ़वा जिले में 8वीं कक्षा में अध्ययनरत 8432, 9वीं की 6755, 10वीं की 6745, 11वीं की 4571, 12वीं कक्षा में अध्ययनरत 3523 छात्राओं को इस योजना से अच्छादित किया गया है. साथ ही 18-19 आयुवर्ग की 349 बालिकाओं को सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का लाभ दिया जा रहा है.

इसे भी पढ़े- Hazaribagh: AK इंटरनेशनल होटल के मालिक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जाने क्या है पूरा मामला

इस योजना अंतर्गत वर्ग 8 एवं 9 की छात्राओं को 25,00 वर्ग 10 से 12 तक की छात्राओं को 5,000 तथा 18-19 वर्ष की बालिकाओं को 20,000 रूपये एकमुश्त देने का प्रावधान है. पांकी प्रखंड क्षेत्र के बनई गांव निवासी एवं कक्षा 11 वीं में अध्ययनरत छात्रा अंजली कुमारी ने बताया कि सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना से उन्हें 5000 की राशि की प्राप्ति हुई. यह राशि से उन्हें टैब की खरीदारी में मदद मिली. टैब के माध्यम से वह ऑनलाइन व्यवस्था से जुडकर बेहतर शिक्षा ग्रहण कर रही हैं.

पाटन प्रखंड क्षेत्र के मेराल गांव की निवासी विनय कुमार मेहता की पुत्री प्रतिभा कुमारी ने बताया कि वह राजकीय पिछड़ी जाति आवासीय बालिका प्लस टू उच्च विद्यालय, अयोध्या कोल्हुआ की 11वीं कक्षा की छात्रा हैं. इस योजना से प्राप्त राशि से उन्हें पाठ्य सामग्री की खरीद में मदद मिली है. पांकी प्रखंड क्षेत्र के बनई गांव निवासी एवं कक्षा 11वीं में अध्ययनरत छात्रा खुशी कुमारी ने कहा कि उसे भी 5000 रूपये की राशि प्राप्त हुई है. इस राशि का उपयोग उन्होंने ट्यूशन फीस भरने एवं पुस्तक कॉपी खरीदने में की हैं.

इसे भी पढ़े- Jharkhand Home Guard Vacancy 2023: झारखंड होम डिफेंस कॉर्प्स ने होमगार्ड के 1501 पदों पर नियुक्ति, यहां क्लिक करके देखें डिटेल्स

Advertisement
Palamu: सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना बालिकाओं के लिए साबित हो रही संजीवनी, 1 लाख से अधिक को अब तक मिला लाभ 1