Skip to content
Advertisement

सीएम हेमंत सोरेन का नायक रूप देखकर भौंचक्की रही पुलिस, जमकर लगाई फटकार

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन खतियानी जोहार यात्रा के दौरे संबंधित जिलों में औचक निरीक्षण करते है. सोमवार को सीएम हेमंत सोरेन सिमडेगा में खतियानी जोहार यात्रा के क्रम में पहुँचे थे इसके बाद वे चाईबासा गए जहाँ पहुँचते ही उन्होंने थाने का औचक निरीक्षण किया, थाने की हालात ख़राब देख सीएम पुलिस वालों पर भड़क गए पूछ डाला कि यह थाना है या कोई बालू-गिट्टी का गोदाम.

चाईबासा के मुफस्सिल थाना पहंचे. यहां थाना परिसर में सड़े वाहन समेत गंदगी देखकर मुख्यमंत्री भड़क गये. उन्होंने एसपी से पूछा कि यह थाना है या बालू-गिट्टी का गोदाम. इसके बाद मुख्यमंत्री थाना के अंदर हाजत की स्थिति का जायजा लिया. हाजत में मूत्राशय देखकर सीएम फिर भड़क गये.

Also Read: Jharkhand Model School Admission: JAC ने मॉडल स्कूल प्रवेश परीक्षा के लिए पंजीकरण तिथि की घोषणा

सीएम ने एसपी से कहा कि भले ही यहां कैदियों को रखा जाता है. कैदी भी आम आदमी होते हैं. मूत्राशय की गंदगी से उन्हें गंभीर बीमारी हो सकती है. सीएम ने हाजत के बाहर मूत्राशय रखने का निर्देश दिया. एसपी ने सीएम को बताया कि यहां मात्र कुछ घंटे के लिए कैदियों को रखा जाता है. कैदी भाग नहीं जाए इसलिए हाजत में ही मूत्राशय की व्यवस्था रहती है. सीएम ने कहा कि यह जवाबदेही पुलिस की है. अपनी जवाबदेही से बचने के लिए पुलिस हाजत में मूत्राशय रखती है. इसे अविलंब हटाया जाए.

थाने के छत से पानी टपकता देख सीएम हेमंत सोरेन ने एसपी से पूछा यह क्या है

मुफस्सिल थाना के छत से पानी टपक रहा था. सीएम ने एसपी से पूछा कि यह क्या है. एसपी ने बताया कि थाना के पुलिस कर्मियों के लिए ऊपर वॉश रूम बनाया गया है. सिपेज होने से पानी टपक रहा है. सीएम ने वॉश रूम छत से तोड़कर नया बनाने का निर्देश दिया. उन्होंने थाना के पंजी एवं स्टेशन डायरी का भी निरीक्षण किया. थाना में प्रतिमाह दर्ज हो रहे केस की भी जानकारी ली. एसपी ने सीएम से पुलिस कर्मियों के आवास की कमी बताते हुये. नया आवास निर्माण कराने का आग्रह किया.

सीएम हेमंत सोरेन का नायक रूप देखकर भौंचक्की रही पुलिस, जमकर लगाई फटकार 1

सीएम ने एसपी को कहा थाना से पहले कचड़ा हटा कर साफ करें. इसके बाद भवन बनाने के लिए जगह की कमी नहीं होगी. थाना परिसर में ही पुलिस कर्मियों का आवास बनाया जायेगा. मुफस्सिल थाना का निरीक्षण करने के बाद थाना परिसर में मौजूद महिला थाना का भी सीएम ने जायजा लिया. यहां भी हाजत की स्थिति देखकर वह नाराज हुए. हाजत की स्थिति सुधारने का निर्देश दिया. महिला थाना के बाहर भी सड़े हुए वाहन, गिट्टी-बालू व गंदगी देखने पर उन्होंने एसपी को यह सब हटाने का निर्देश दिया. एसपी ने बताया कि यह सब पुलिस की संपत्ति नहीं है. यह कोर्ट की संपत्ति है. कोर्ट से आदेश मिले बिना पुलिस कुछ नहीं कर सकती है. सीएम ने कहा जिनकी संपत्ति है उनके हवाले कर दें. किसी भी स्थिति में थाना परिसर में गंदगी नहीं रहना चाहिए.

Advertisement
सीएम हेमंत सोरेन का नायक रूप देखकर भौंचक्की रही पुलिस, जमकर लगाई फटकार 2