Skip to content
Advertisement

Ramgarh By-Election: हेमंत ने कहा- केला छाप का धनबल नहीं, रामगढ़ का जनबल जीतेगा

Arti Agarwal

Ramgarh By-Election: विधानसभा उपचुनाव  को लेकर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने गुरुवार को भी जनसभा की. उन्होंने चितरपुर और रकुवा के चुनावी सभा में एनडीए पर कई गंभीर आरोप लगाए और सरकार द्वारा किए गए कार्यों को चुनावी सभा में पहुंचे लोगों के बीच रखा. यूपीए गठबंधन के उम्मीदवार के पक्ष में मतदान की अपील लोगों से की है.

चुनावी सभा के दौरान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्य में झारखंडियों के हित में बनने वाले कानून से भाजपा-आजसू और उसके साथी यूपी बिहार वालों के पेट में दर्द शुरू हो जाता है. झारखंड अलग राज्य आंदोलन में हजारों झारखंडियों ने अपनी जान की आहुति दी है. इस आंदोलन में यूपी और बिहार वालों की कोई भूमिका नहीं है.

उन्होंने कहा कि मैं जब-जब बिहार और यूपी वालों का रास्ता बंद करता हूं, तब-तब आजसू और भाजपा वाले तरह-तरह के हथकंडे अपनाकर सत्ता में आने का प्रयास करते हैं. लेकिन हमारे राज्य के सवा तीन करोड़ जनता जागरूक और चालाक हो चुकी है. जिसके कारण 2019 विधानसभा चुनाव में एनडीए गठबंधन को उखाड़ फेंका है. जिसके बाद से ही आजसू-भाजपा ने मिलकर केंद्र सरकार के इशारे पर हमारी सरकार को गिराने का प्रयास किया.

Ramgarh By-Election: आजसू वालों ने एक व्यक्ति के वोट की कीमत 700 तय की है

उन्होंने कहा कि आजसू और भाजपा वाले व्यापारिक संबंध निभाते हैं. चुनावी सभा के दौरान उन्होंने कहा कि सूचना मिल रही है कि यहां पर पैसे वाले एक व्यक्ति की वोट कीमत 700 रुपए और एक महिला की वोट की कीमत 300 रुपये लगा रहे है. ऐसे में पैसे से वोट खरीदने वाले पूंजीपतियों से सावधान रहना होगा. रोजगार का सृजन किया है. ओबीसी को 27 प्रतिशत आरक्षण देने, पारा शिक्षकों को उनका अधिकार देने, कर्मचारियों को पुरानी पेंशन योजना का लाभ देने की भी बात मुख्यमंत्री ने कही और यूपीए प्रत्याशी के पक्ष में वोट डालने की अपील दोनों जन सभाओं में की. मुख्यमंत्री को सुनने के लिए हजारों की संख्या में लोग दोनों जगहों पर पहुंचे थे.

Also Read: Ramgarh By-Election: सीएम हेमंत ने क्यूँ कहा माँ की “ममता” जनता की अदालत में है

Advertisement
Ramgarh By-Election: हेमंत ने कहा- केला छाप का धनबल नहीं, रामगढ़ का जनबल जीतेगा 1