Skip to content
sanjay seth

Ranchi MP Sanjay Seth: रांची सांसद संजय सेठ ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को लिखा पत्र, ब्लैक और वाइट फंगस की दवा उपलब्ध कराने का किया आग्रह

Arti Agarwal

Ranchi MP Sanjay Seth: देशभर सहित झारखंड में कोरोना की दूसरी लहर ने हाहाकार मचा कर रख दिया है. संक्रमण की रफ्तार इतनी तेज थी कि दवाओं से लेकर ऑक्सीजन की भारी कमी देखने को मिली है. संक्रमण की दूसरी लहर में कई लोगों ने अपनी जान गवाई है. सरकार के द्वारा दूसरे लहर को काबू करने की पूरी कोशिश की जा रही है लेकिन अब एक और नई बीमारी सामने आ रही है जो ब्लैक फंगस और वाइट फंगस के नाम से जानी जा रही है.

Advertisement

ब्लैक फंगस और वाइट फंगस के लिए झारखंड में दवाओं की भारी किल्लत है केवल झारखंडी नहीं पूरे भारत में ब्लैक फंगस और वाइट फंगस के लिए दवाओं की भारी किल्लत है. ऐसे में रांची लोकसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के सांसद संजय सेठ ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन को पत्र लिखकर ब्लैक फंगस और वाइट फंगस में उपयोग किए जाने वाली दवाओं को उपलब्ध कराने का आग्रह किया है. संजय सेठ ने कहा है कि झारखंड में ब्लैक फंगस और वाइट फंगस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए दवाएं उपलब्ध कराई जाए ताकि नागरिकों का उपचार सुचारू रूप से हो सके.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को लिखे गए पत्र में संजय सेठ ने कहा की कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद अब मरीजों को एक नई समस्या का सामना करना पड़ रहा है. ब्लैक फंगस और वाइट फंगस के नाम से एक नया संक्रमण सामने आया है इसके कारण देशभर में लोगों को नए संकटों का सामना करना पड़ रहा है. हमारा राज्य झारखंड ब्लैक और वाइट फंगस के संक्रमण से अछूता नहीं है. संक्रमण की इस नई समस्या से नागरिक तो परेशान है ही साथ ही स्वास्थ्य महकमे में भी यह परेशानी खड़ी कर रहा है. झारखंड में इससे संबंधित दवाएं भी उपलब्ध नहीं है दवाओं की अनुपलब्धता के कारण संक्रमितो की संख्या बढ़ रही है और लोग असमय काल के गाल में समा रहे हैं.

Also Read: झारखंड के 26 प्रवासी मजदूर फंसे है नेपाल में, CM ने मजदूरों को लाने के लिए भेजी बस

आगे उन्होंने कहा वर्तमान समय में झारखंड में दर्जनों लोग इस फंगस से संक्रमित हो चुके हैं और कई लोगों की मौत हो चुकी है जो बेहद दर्दनाक है. इस फंगस से बचाव के लिए चिकित्सकों के द्वारा सुझाए कई दवाओं को झारखंड के लिए पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराया जाए ताकि ब्लैक और वाइट फंगस से संक्रमित हो रहे झारखंड के नागरिकों की जान बचाई जा सके. ब्लैक और वाइट फंगस के संक्रमण से बचाव और उपचार के लिए डॉक्टर जिन दवाओं का सुझाव दे रहे हैं उन्हें जल्द से जल्द राज्य को उपलब्ध कराया जाए ताकि राज्य की जनता को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सकें.

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches