Skip to content
Advertisement

RCHRC: सीएम हेमंत की पहल के बाद टाटा मेमोरियल सेंटर में कैशलैस हुआ कैंसर का इलाज

News Desk

RCHRC: शुक्रवार को स्वास्थ्य के क्षेत्र में झारखंड को बड़ी सौगात मिली है. कांके के सुकुरहुटू रोड कदमा में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने टाटा ट्रस्ट द्वारा स्थापित रांची कैंसर हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर का उद्घाटन किया।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि यह अस्पताल टाटा की मदद से कैंसर के इलाज के लिए बड़ा केंद्र बनेगा। सीएम इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित हुए। उद्घाटन समारोह में मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में हाल में स्वास्थ्य के क्षेत्र में कई चीजें जुड़ीं, लेकिन कैंसर के इलाज की सुविधा न के बराबर थी।

इसे भी पढ़े- Karnataka Election Result: कर्नाटक चुनाव परिणाम पर सीएम हेमंत सोरेन की प्रतिक्रिया, बोले- ‘फूट डालो-राज करो’ राजनीति की उल्टी गिनती शुरू

हमने इसके लिए प्रयास शुरू किया। आज वह दिन आ गया। कैंसर के इलाज के लिए एक भव्य अस्पताल जनता को समर्पित है। यह कैंसर के इलाज का बड़ा केंद्र बनेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि अस्पताल झारखंड के लिए मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने कहा कि उनकी इच्छा है कि यह देश के लिए भी माइल स्टोन बने, इसके लिए ट्रस्ट प्रयास करे। उन्होंने कहा कि राज्य से बड़ी संख्या में कैंसर मरीजों को बाहर जाना पड़ता है। अब इसकी जरूरत नहीं पड़ेगी। राज्य में स्थापित इस अस्पताल में विश्वस्तरीय मशीनें लगायी गयी हैं। उन्होंने कहा कि टाटा ट्रस्ट के साथ कदम से कदम मिलाकर सरकार चलेगी ताकि राज्य की तरक्की का मार्ग प्रशस्त हो।

RCHRC झारखंड सरकार और TMC कोलकाता के बीच हुआ करार, कैंसर के मरीजों का कैशलेस इलाज होगा

इस अवसर पर मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के कार्यान्वयन के लिए झारखंड राज्य आरोग्य सोसायटी और टाटा मेडिकल सेंटर के बीच एमओयू किया गया। सोसायटी के निदेशक डॉ भुवनेश प्रताप सिंह एवं टीएमसी, कोलकाता के निदेशक पी अरुण ने एमओयू पर हस्ताक्षर किये। एमओयू के अनुसार आयुष्मान भारत मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत आने वाले झारखंड के मरीजों को कोलकाता के अत्याधुनिक टाटा मेडिकल सेंटर में उपचार की कैशलेस सुविधा मिलेगी।

RCHRC: सीएम हेमंत की पहल के बाद टाटा मेमोरियल सेंटर में कैशलैस हुआ कैंसर का इलाज 1

इस मौके पर टाटा ट्रस्ट के ट्रस्टी एवं टाटा स्टील के वाइस चेयरमैन नोएल टाटा ने कहा कि रांची कैंसर हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर का प्रबंधन टाटा कैंसर केयर फाउंडेशन (टीसीसीएफ) करेगा। फाउंडेशन मंबई में ओंकोपैथो लैब चलाता है जहां कैंसर की बीमारी के स्तर का सटीक पता लगाया जाता है। उन्होंने कहा कि रांची का यह अस्पताल सिर्फ इलाज ही नहीं करेगा बल्कि वैज्ञानिकों के साथ मिलकर नयी तकनीक का पता लगाएगा और इलाज की नई विधियां भी ईजाद करेगा। रांची व आसपास के 80 हजार सर्वाइकल, ब्रेस्ट और ओरल कैंसर की स्क्रीनिंग की गयी है। ट्रस्ट रिम्स में हेल्थ अवेयरनेस स्क्रीनिग कियोस्क संचालित कर रहा है।

इसे भी पढ़े- सीएम हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने 400 करोड़ से बने कैंसर हॉस्पिटल का किया उद्घाटन, स्वास्थ्य सुविधा में गरीबी नहीं बनेगी बाधा

Advertisement
RCHRC: सीएम हेमंत की पहल के बाद टाटा मेमोरियल सेंटर में कैशलैस हुआ कैंसर का इलाज 2