Categories
झारखंड पॉलिटिक्स

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर बाबूलाल मरांडी और भाजपा के नेता मौन क्यों हैं, जनता को जवाब दें- कुणाल शुक्ल

झारखंड प्रदेश युवा कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता कुणाल शुक्ला ने बाबूलाल मरांडी और भाजपा नेताओं पर पेट्रोल और डीजल के मूल्यों में लगातार वृद्धि पर भी मौन रहने का आरोप लगाया है.

Advertisement

भाजपा पर तंज कस्ते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने कहा था कि “बहुत हुई पेट्रोल डीजल की मार अबकी बार मोदी सरकार” और उन्होंने यह भी कहा था कि अच्छे दिन आएंगे हम देख रहे हैं जिस तरह से लगातार पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ रही हैं उससे तो नहीं लगता है कि लोगों के अच्छे दिन आएंगे बल्कि लोगों के जो अच्छे दिन थे वह भी भारतीय जनता पार्टी की सरकार केंद्र बनने से वह खत्म हो गई है

Also Read: पेट्रोल-डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों के खिलाफ 29 जून को कांग्रेस करेगी धरना-प्रदर्शन

आज स्थिति इस तरह हो गई है कि देशवासियो को डीजल की कीमत पेट्रोल से ज्यादा चुकाना पड़ रहा है जहाँ एक तरफ क्रूड ऑयल की कीमत लगातार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर घटी हुई है वहीं केंद्र सरकार पेट्रोल और डीजल की कीमतों को कम करने के बजाय लगातार बढ़ रही है इस पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश और भाजपा विधायक बाबूलाल मरांडी मौन क्यू हैं? चिट्ठी और पत्र भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व को और मोदी जी को क्यों नहीं लिख रहे हैं.

आगे शुक्ल ने कहा पेट्रोलियम मंत्री को चिट्ठी लिखे और कहे इस वक्त जहां लोग कोरोना महामारी के संकट से परेशानी से जूझ रहे हैं लोगों की आर्थिक स्थितिया कमजोर हुए है वही आप लगातार और पेट्रोल डीजल की कीमतें बढ़ा रहे हैं.

सरकार की विफलता है की वजह से पेट्रोल और डीजल की मार लोगों को कमजोर कर रही है और वही दूसरी ओर आत्मनिर्भर होने का नारा लोगों तक पहुंचाया जा रहा है यह दोहरे चरित्र भारतीय जनता पार्टी का बेनकाब हो चुका है।

बढ़ती पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर लोगों के सवालों का जवाब भारतीय जनता पार्टी के झारखंड इकाई के सभी नेताओं को देना चाहिए इनका मौन रहना यह बताता है कि वह जनता के दुख दर्द में नहीं बल्कि उनकी पॉकेट से पैसा निकालने में विश्वास करती है।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *