Skip to content

Bharat Band: दिल्ली- हरियाणा सीमा पर किसानों को रोकने के लिए CRPF तैनात, हरियाणा पुलिस ने छोड़ें आंसू गैस के गोले

tnkstaff

26 नवंबर को पूरा देश संविधान दिवस मनाता है सविधान दिवस के दिन पंजाब और हरियाणा के 2,00,000 किसान केंद्र सरकार के द्वारा लाए गए कृषि कानून का विरोध करते हुए 26 नवंबर से लेकर 28 नवंबर तक दिल्ली चलो आंदोलन अभियान के तहत विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं

केंद्र सरकार के द्वारा लाए गए कृषि कानून के विरोध में पंजाब हरियाणा के किसानों द्वारा 26 नवंबर से लेकर 28 नवंबर तक दिल्ली चलो अभियान की शुरुआत की गई है अभियान में शामिल 2,00,000 किसानों को रोकने के लिए दिल्ली हरियाणा सीमा पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है दिल्ली फरीदाबाद सीमा पर राज्य पुलिस बल के अलावे सीआरपीएफ की तीन बटालियन को भी तैनात किया गया है किसानों द्वारा आहूत की गई रैली को देखते हुए दिल्ली एनसीआर में दोपहर 2:00 बजे तक मेट्रो सेवा बंद कर दी गई है

Also Read: केन्द्र सरकार के खिलाफ देशव्यापी हड़ताल आज, बैंक-बीमा सहित अन्य संस्थानों के लोग होगें शामिल

कृषि कानून के विरोध में बुलाए गए रैली को लेकर किसानों ने पंजाब से चलकर हरियाणा की सीमा में प्रवेश कर चुके हैं हरियाणा सरकार की तरफ से पंजाब बॉर्डर को सील कर दिया गया है वही किसान संगठनों का दावा है की सीमा पर एक लाख से अधिक किसान जुड़ेंगे वहीं बुधवार को दिल्ली चंडीगढ़ हाईवे पर 15 किलोमीटर से ज्यादा लंबा जाम लग गया अंबाला हाईवे पर जमा हुए किसानों को खदेड़ने के लिए सुरक्षाबलों की तरफ से पानी की बौछार की गई जिसके बाद गुस्साए किसानों ने बैरिकेड को तोड़ दिया स्थिति को देखते हुए धारा 144 लगा दी गई है और 100 से ज्यादा किसान नेता हिरासत में ले लिए गए हैं

उधर गुरुवार को दिल्ली चलो अभियान के तहत हरियाणा बॉर्डर पर पंजाब के किसान इकट्ठा हुए थे जहां हरियाणा पुलिस ने किसानों पर आंसू गैस के गोले छोड़े ताकि वे तितर बितर होकर बॉर्डर को छोड़ दें

Leave a Reply