india-covid19-patient-more-than-america_optimized

दुनिया भर में भारत में सबसे तेजी से बढ़ रहे है कोरोना के मरीज, अगस्त के अंत तक 44 लाख पहुँच सकता है आंकड़ा

News Desk
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

भारत में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की सांख्य में तेजी से इजाफा हो रहा है. यह इजाफा इतनी तेजी से हो रहा है कि अब भारत अमेरिका से भी आगे हो चूका है.

Advertisement

भारत में प्रत्येक दिन कोरोना वायरस के मिलने वाले मरीजों की दर 3.6% हो गई है, जो दुनिया में सबसे ज्यादा है। दुनिया भर में सबसे ज्यादा मरीज अमेरिका में है. अमेरिका में कोरोना वायरस के 39 लाख मरीज है और वहाँ 1.8% कि दर से कोरोना के मरीज मिल रहे है. यानी भारत से आधी रफ़्तार से अमेरिका में कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है.

Also Read: साल के अंत से पहले लोगो तक पहुँच सकती है कोरोना वैक्सीन, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के पहले फेज का ट्रायल सफल

भारत में अब मरीज दोगुने होने में सिर्फ 19 दिन लग रहे हैं। एक महीने पहले तक 25 दिन लग रहे थे। अभी देश में 11 लाख से ज्यादा मरीज हैं। इस हिसाब से देखें तो 8 अगस्त तक देश में 22 लाख मरीज हो सकते हैं। आगे भी यह रफ्तार कम नहीं पड़ी तो अगस्त के अंत तक देश में कुल 44 लाख कोरोना मरीज हो सकते हैं। भारत में 1 जुलाई से 19 जुलाई के बीच कुल 5.37 लाख नए मरीज मिले।

देश में 8 जुलाई तक एक बार भी नए मरीजों का आंकड़ा 25 हजार से ऊपर नहीं गया था। लेकिन, अब रोज 35 हजार से ज्यादा नए मरीज मिलने लगे हैं। 18 जून को सक्रिय मरीजों की बढ़ने की दर 2.1% तक गिर गई थी। जबकि, लॉकडाउन-1 में यह दर 25% के करीब थी.

एम्स डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा कि देश में कोरोना के नए मरीजों के मिलने की रफ्तार बढ़ती जा रही है। ऐसे में कई राज्य अधिक प्रभावित इलाकों में दोबारा लॉकडाउन तो कर रहे हैं, मगर साथ ही नए मरीजों को संस्थागत क्वारैंटाइन के बजाय होम आइसोलेशन में रख रहे हैं। बिना लक्षण वाले मरीजों को होम आइसोलेशन में रखना खतरनाक है।

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Related News

Popular Searches