Categories
देश

Ravi Kishan: संसद में ड्रग का मामला उठाने वाले रवि किशन को मिली Y+की सुरक्षा, यूपी सरकार का जताया शुक्रिया

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से भाजपा सांसद रवि किशन को Y+ की सुरक्षा दी गयी है। बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद फिल्म इंडस्ट्री में ड्रग्स मामला इतना बढ़ गया है कि उसे संसद के मानसून सत्र में भी उठाया गया है संसद में इस मामले को सांसद रवि किशन ने बीते दिनों चर्चा में लाया था इसी चर्चा के बीच अब रवि किशन को Y+ श्रेणी की सुरक्षा दी गई है इस बात की जानकारी सांसद रवि किशन ने गुरुवार की सुबह स्वयं ही ट्वीट कर सभी को दी है।

Advertisement

गोरखपुर से भाजपा के सांसद रवि किशन को उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से यह सुरक्षा प्रदान की गई है जिसे लेकर रवि किशन ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को शुक्रिया कहा है। रवि किशन ने ट्वीट करते हुए लिखा की पूजनीय महाराज जी मेरी सुरक्षा को देखते हुए आपने जो Y+ श्रेणी की सुरक्षा मुझे उपलब्ध करवाई है इसके लिए मैं और मेरा परिवार तथा मेरी लोकसभा क्षेत्र की जनता आपकी ऋणी है तथा आपका धन्यवाद करती है मेरी आवाज हमेशा सदन में गूंजती रहेगी।

Also Read: केन्द्र सरकार का आदेश इस दिन खुलेगे सिनेमा घर, स्कूल खोलने का अधिकार राज्यों को दिया गया

मालूम हो कि बॉलीवुड में ड्रग्स को लेकर उठे बवाल के बीच रवि किशन ने लोकसभा में इस मामले को उठाया था इसके अलावा पायल घोष के द्वारा फिल्म निदेशक अनुराग कश्यप पर यौन शोषण के जो आरोप लगाए गए थे उस मामले को लेकर भी उन्होंने लोकसभा में आवाज उठाई थी इन्हीं वजहों से रवि किशन लगातार चर्चा में थे और बॉलीवुड में कई लोगों के निशाने पर भी थे।

समाजवादी पार्टी के सांसद और अभिनेत्री जया बच्चन ने राज्यसभा में ही रवि किशन को खरी-खोटी सुनाई और उन्हें जिस थाली में खाते हैं उसी में छेद करने वाला बता डाला जिसके बाद रवि किशन को लेकर बॉलीवुड की कई सेलिब्रिटी ने सवाल खड़े किए और उन पर इंडस्ट्री को बदनाम करने का आरोप भी लगाया ऐसे में इस बवाल के बीच रवि किशन को वाई प्लस की सुरक्षा मिलना सभी को चौंकाने वाली बात है इससे पहले रवि किशन ने अपने एक बयान में कहा था कि ड्रग्स कनेक्शन को लेकर आवाज उठाने के बाद उन्होंने बॉलीवुड में अपने कई प्रोजेक्ट गवा दिए हैं।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *