coronavirus

सालों तक रहेगा Corona Virus! UN की रिपोर्ट ने किया है बड़ा दावा, मौसमी बीमारी का रूप ले रहा है कोरोना

tnkstaff
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on pocket

कोरोना वायरस की दूसरी लहर एक बार फिर तेज हो गई है इसे लेकर संयुक्त राष्ट्र की तरफ से एक चिंताजनक बात कही गई है. दरअसल, संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि कोरोना वायरस जल्द ही एक मौसमी बीमारी का रूप ले सकता है.

Advertisement

बीते 1 साल से पूरी दुनिया कोरोना महामारी से लड़ रही है. हालांकि बीच में संक्रमण के मामले कम हुए थे परंतु पिछले कुछ दिनों से भारत ही नहीं पूरी दुनिया के ज्यादातर देशों में एक बार फिर से कोरोना वायरस की दूसरी लहर दिखाई दे रही है. प्रत्येक देश की कोशिश यही है कि किसी तरह कोरोना वायरस के ग्राफ को बढ़ने से रोका जाए.

इस बीच संयुक्त राष्ट्र की तरफ से एक चिंताजनक बात कही गई है. संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि कोरोना वायरस जल्द ही एक मौसमी बीमारी का रूप ले सकता है. बता दें, कि चीन में सबसे पहले कोरोना का केस मिलने के 1 साल बाद भी इस बीमारी के रहस्य को वैज्ञानिक सुलझा नहीं पाए हैं. कोरोनावायरस के संक्रमण से दुनिया भर में लगभग 2.7 मिलीयन लोग मारे जा चुके हैं. कोरोना वायरस पर अध्ययन कर रही एक विशेषज्ञों की टीम ने इसके प्रसार पर जानकारी हासिल करने के लिए मौसम विज्ञान और वायु गुणवत्ता का अध्ययन किया और उनमें होने वाले प्रभाव को जानकारी जुटाने की कोशिश की है. अध्ययन में वैज्ञानिकों ने पाया कि कोरोना वायरस अब मौसमी बीमारी की तरह अगले कुछ सालों तक इसी तरह से परेशान करते रहेगा.

Also Read: रेसलर Babita Phogat की बहन ने फांसी लगा कर की आत्महत्या, जानिए सुसाइड के पीछे की वजह

संयुक्त राष्ट्र के वैश्विक मौसम संगठन द्वारा गठित 16 सदस्य टीम ने बताया कि सांस संबंधित संक्रमण अक्सर मौसमी होते हैं. कोरोना वायरस भी मौसम और तापमान के मुताबिक अपना असर दिखाएगा. वैज्ञानिकों की टीम ने कहा है कि अभी तक कोरोना वायरस को काबू करने के लिए जितने भी प्रयास किया गया है वह कम दिखाई दे रहे हैं उन्होंने बताया कि अगर यह कई सालों तक इसी तरह से कायम रहा तो कोरोना एक मजबूत मौसमी बीमारी बन कर उभरेगा

Advertisement

Leave a Reply

Share on facebook
Share on twitter
Share on pocket
Share on whatsapp
Share on telegram

Popular Searches