Skip to content

Chatra: अंकिता की चिता की अभी बुझी नहीं आग की झारखण्ड में सामने आया एक और हादसा

zabazshoaib
Advertisement
Chatra: अंकिता की चिता की अभी बुझी नहीं आग की झारखण्ड में सामने आया एक और हादसा 1

Jharkhan Chatra: झारखण्ड राज्य अंकिता मर्डर केस के बाद चतरा से भी एक सरफिरे आशिक की दरिंदगी सामने आईं हैं जिसने युवती के ऊपर तेजाब फेंक कर उसे जला दिया। 17 साल की नाबालिक काजल कुमारी जो अपने घर में 5 अगस्त को सो रही थीं उसी समय संदीप कुमार नाम का एक सरफिरा लड़का छलांग लगाकर उसके घर के अंदर आ गया और काजल के ऊपर तेजाब फेंक कर उनको जला दिया। घटना के बाद पीड़िता को जल्दी रिम्स में भर्ती कराया गया काजल की मां देवेंद्री यादव किसी तरह अपनी जान बचाकर उसकी सेवा में लगी रही।

Advertisement
Advertisement

Also read: Dumka:एकतरफा मुहब्बत ने आशिक को किया प्यार में अंधा, लेनी चाही युवती की जान, जाने पूरा मामला!

प्रशासन और डॉक्टर नही निभा रहें अपनी ज़िम्मेदारी

काजल की मां ने पुलिस प्रशासन और डॉक्टर पर आरोप लगाया हैं की वो अपना ज़िम्मेदारी सही से नही निभा रहें हैंउनका कहना है की संदीप उनकी बेटी को पहले से परेशान कर रहा था और मारने की धमकी भी दी थी जिस पर हंटरगंज थाना में मामले पर कार्यवाई करने के लिए पत्र भी लिखा गया था किंतु कोई एक्शन पुलिस प्रशासन के तरफ से नही की गई जिसके बाद मनचले युवक की हिम्मत और बढ़ी और उसने इस अपराध को अंजाम दिया पीड़िता के मां ने कहा की 6 अगस्त से उसकी बेटी रिम्स में भर्ती हैं लेकिन उसकी हालत में सुधार होने के बजाए और बिगड़ती जा रही हैं. उसके शरीर में इन्फेक्शन और बढ़ता जा रहा हैं. ये सब डॉक्टर्स की धीमी गति से इलाज के कारण हो रहा हैं. इसलिए मुझे भय है की मेरी बेटी हमारा साथ ना छोड़ दे।

Also read: कड़ी सुरक्षा के बीच दुमका की बेटी अंकिता का हुआ अंतिम संस्कार, परिजनों को CM Hemant Soren ने उपलब्ध कराई 10 लाख की सहायता राशि

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से की अच्छे अस्पताल में इलाज कराने की अपील

काजल के परिजनों ने रिम्स की लचर व्यवस्था और अपने बेटी के हालत को देखते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन रिम्स से दिल्ली के बड़े और अच्छे अस्पताल में इलाज करवाने की अपील की हैं।

Advertisement
Chatra: अंकिता की चिता की अभी बुझी नहीं आग की झारखण्ड में सामने आया एक और हादसा 2