Skip to content
wp-1595610874195.png

झारखंड में शुक्रवार को मिले 314 कोरोना पॉजिटिव, 07 की मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 7500 के पार

News Desk

राज्य में कोरोना का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. झारखंड में शुक्रवार 24 जुलाई को 314 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले है जबकि 07 लोगो की मौत कोरोना से हुई है. राज्य में बढ़ते आंकड़ों ने सबको परेशान कर रखा है. आज आये मामलो के साथ राज्य में संक्रमितों की संख्या 7500 के पार कर गई है जो राज्य के लिए चिंता का विषय है.

Advertisement
झारखंड में शुक्रवार को मिले 314 कोरोना पॉजिटिव, 07 की मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 7500 के पार 1

Also Read: गढ़वा में सरकारी कर्मचारी के पिता की कोरोना से मौत, जिले में कोरोना से दूसरी मौत

बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित मिलने के साथ ही राज्य में 07 लोगो की जान कोरोना की वजह से चली गई. गढ़वा में एक 85 साल के बुजुर्ग की मौत कोरोना से हो गयी, मृत व्यक्ति एक सरकारी कर्मचारी का पिता था और वो मूल रूप से बिहार का रहने वाला था. जबकि दो मरीजों की मौत जमशेदपुर में कोरोना की वजह से हुई. झारखंड में अब तक 7564 कोरोना के मामले सामने आ चुके है जिनमे से 3254 लोग स्वस्थ्य हो कर घर लौट चुके है. जबकि राज्य में 4111 कोरोना के सक्रिय मरीज है. जिनका इलाज अस्पतालों में चल रहा है. राज्य में अब तक 88 लोगो की मौत कोरोना की वजह से हो चुकी है.

Also Read: मनरेगा भुगतान में झारखंड देश में बना अव्वल, मजदूरों को शत-प्रतिशत हो रहा है भुगतान

आज गढ़वा में 56, रांची में 51, रामगढ़ में 23, पूर्वी सिंहभम में 21, साहिबगंज में 16, सिमडेगा में 12, प. सिंहभूम, हजारीबाग तथा कोडरमा में 11-11, लोहरदगा में 10, सरायकेला में नौ, दुमका में चार, गोड्डा में तीन, गुमला व पाकुड़ में दो-दो दो तथा चतरा में एक नए मरीज मिले। वहीं, सिमडेगा तथा कोडरमा में 12-12,, पलामू में आठ, लोहरदगा में सात, चतरा तथा दुमका में चार-चार, प. सिंहभम में तीन तथा पूर्वी सिंहभूम में दो मरीज स्वस्थ भी हुए।

Also Read: झारखंड में प्लाज्मा थेरेपी से होगा कोरोना मरीजों का इलाज, CM सोरेन रिम्स में करेंगे उद्घाटन

राज्य में कोरेाना के बढ़ते संक्रमण तथा हाल के दिनों में हुई कई मरीजों की मौत के बाद अब प्लाज्मा थेरेपी से काेरेाना मरीजों के इलाज का निर्णय लिया है। रांची के रिम्स कोविड अस्पताल में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन 28 जुलाई को इसकी शुरुआत करेंगे। आइसीएमआर ने इसपर अपनी सैद्धांतिक सहमति प्रदान कर दी है.

Advertisement

Leave a Reply