Skip to content
Advertisement

Jharkhand Air Ambulance: सीएम हेमंत सोरेन बोले, सिर्फ पैसे देने वालों को नहीं- जो पैसे नहीं भी दे सकता है उन्हें भी मिलेगा लाभ

Shah Ahmad

Jharkhand Air Ambulance: झारखंड वासियों को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने आज यानी शुक्रवार 28 अप्रैल को बड़ी सौगात दी है. राज्य के जरुरतमंदो के लिए हेमंत सरकार ने एयर एम्बुलेंस की शुरुआत की है. सीएम सोरेन ने विधिवत तरीके से फीता काट कर इसकी शुरुआत बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर की है.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में एक और कड़ी जोड़ने का प्रयास किया है. परिणाम राज्य के लोगों के सामने है. स्वास्थ्य के क्षेत्र में झारखंड पूरी मजबूती के साथ खड़ा है. जंगल-पहाड़ों वाले राज्य में स्वास्थ सेवा उपलब्ध कराने में कई चुनौतियां सामने आती हैं. इसके बाद भी सैकड़ों एंबुलेंस सड़कों पर चल रही है. स्वास्थ्य सेवाओं में बदलाव होते रहता है.

इसे भी पढ़े- Jharkhand Post Office Recruitment: झारखंड के मैट्रिक-इंटर पास युवाओं के लिए डाक विभाग में निकली बंपर भर्ती

सुदूर ग्रामीण क्षेत्र में जहां चार पहिया एंबुलेंस नहीं पहुंच सकता है. वैसे जगहों के लिए बाइक एंबुलेंस देने का काम किया गया है. राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स में भी दुनिया के बेहतरीन तकनीक से लैस मशीनें लगायी गयी हैं. बाईपास सर्जरी, ओपेन हार्ट सर्जरी को सुविधा राज्य के लोगों को मिल रही है.

Jharkhand Air Ambulance: सरकार सड़क के किनारे हेलीपैड बनाकर हेलीकॉप्टर से घायलों को अस्पताल लाने की सोच रखती है

सीएम ने आगे कहा कि जब तक मानव जीवन है, चुनौती सामने आती रहती है. आलोचना भी जरूरी है. लेकिन राज्य सरकार अपना काम कर रही है. एयर एंबुलेंस का लाभ सिर्फ पैसे वाले लोगों को नहीं  होगा. बल्कि जिनके पास पैसा नहीं, वे भी इसका  लाभ ले सकेंगे. राज्य के अंदर किसी भी प्रकार की घटना-दुर्घटना होने पर जल्द से जल्द स्वास्थ्य सुविधा मिले, ऐसी व्यवस्था कायम करने का प्रयास किया जा रहा है. यह सरकार सड़क के किनारे हेलीपैड बनाकर हेलीकॉप्टर से घायलों को अस्पताल लाने की सोच रखती है.

इसे भी पढ़े- Jharkhand Air Ambulance: एयर एम्बुलेंस सेवा महज एक शुरुआत- भविष्य में सरकार इसे बना सकती है सुरक्षा कवच

सीएम हेमंत सोरेन ने कहा कि कोरोना काल ने देश दुनिया को एक सबक दी है. आपातकाल के दौर को भुलाया नहीं जा सकता है. राज्य में कई एयरपोर्ट हैं. इनमें धनबाद, बोकारो, गिरिडीह, देवघर, जमशेदपुर, डाल्टेनगंज, गुमला, साहेबगंज (प्रस्तावित) शामिल हैं.  इन एयरपोर्ट पर एयर एंबुलेंस का ट्रायल लैंडिंग भी किया गया है.

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि विभिन्न विभीषिका को झेलते हुए झारखंड स्वास्थ्य के क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है. राज्य के बीमार लोगों को बेहतर इलाज के लिए महानगरों के बड़े अस्पतालों में जाना पड़ता है. ऐसे में यह एयर एंबुलेंस राज्यवासियों के लिए मिल का पत्थर साबित होगा. कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता, कृषि मंत्री बादल पत्रलेख, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, अपर मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह, प्रधान सचिव वंदना डाडेल, मख्यमंत्री के सचिव विनय चौबे, विधायक इरफान अंसारी, विधायक राजेश कच्छप समेत अन्य मौजूद रहे.

Source: Twitter
Advertisement
Jharkhand Air Ambulance: सीएम हेमंत सोरेन बोले, सिर्फ पैसे देने वालों को नहीं- जो पैसे नहीं भी दे सकता है उन्हें भी मिलेगा लाभ 1