Categories
झारखंड

नक्सलियों का तांडव, वनरक्षी आवास को आइडी लगाकर उड़ाया, कई गाड़ियों में भी लगाई आग

चाईबासा के मुफस्सिल थाना क्षेत्र अंतर्गत बरकेला वनरक्षी आवास को नक्सलियों ने आईडी लगाकर उड़ा दिया है। साथ ही मौके पर मौजूद दर्जनों चार पहिया व बाइक में आग लगा दी। शनिवार देर रात नक्सलियों का एक जत्था बरकेला के वन विभाग के द्वारा बनाए गए वनारक्षी आवास में पहुंचे। नक्सलियों ने वनकर्मियों के साथ मारपीट की और उन्हें बंधक बना ले गए लेकिन नक्सलियों ने उन्हें बाद में छोड़ दिया।

Advertisement

Also Read: झामुमो पर पूर्व सांसद लक्ष्मण गिलुवा का हमला कहा, 6 महीने की सरकार एक भी वादा पूरा नहीं कर पाई है

वनकर्मियों के अनुसार, दर्जनों की संख्या में हथियार से लैस नक्सली रात में आए और एक-एक कर सभी बिल्डिंग में विस्फोट करना शुरू कर दिया। इसके बाद वहां खड़ी गाड़ियों में भी आग लगाने का प्रयास किया। नक्सलियों ने पोस्टर चिपका कर कहा कि जंगल से जनता को बेदखल करने के लिए जंगल क्षेत्रों में स्थापित वन विभाग के फोरेस्ट रेंज ऑफिस को हटाने, जंगल पर जनता का अधिकारी कायम करें जैसी बातें लिख रखी है.

Also Read: गुमला में लाठी डंडे से पीट-पीटकर कर आदिवासी युवक की हत्या, शुक्रवार से था लापता

नक्सलियों के द्वारा किए गए इस हमले में वन विभाग की संपत्ति को नुकसान हुआ है। इस हमले में एक कार और एक बाइक को भी नक्सलियों ने ब्लास्ट कर दिया है। इधर, घटना के बाद आसपास के इलाकों में दहशत का माहौल है। दरअसल, माओवादी चाइबासा में अपनी पैठ बनाने के लिए लगातार इस तरह के हमले कर रहे हैं।

Also Read: पुरे भारत में पिछले 24 घंटों में आए 28 हजार से ज्यादा मामले, 22,674 लोगों की हो चुकी है मौत

हाल ही में 31 मई को नक्सल प्रभावित पोड़ाहाट जंगल के जोनुवां पहाड़ी गांव में नक्सलियों ने पुलिस पर हमला कर दिया था। इसमें चक्रधरपुर के एएसपी का बॉडीगार्ड लखींद्र मुंडा शहीद हो गए थे। वहीं, एसपीओ सुंदर स्वरूप महतो की भी मौत हो गई थी। यह घटना दोपहर करीब 12 बजे घटी थी। जब चक्रधरपुर एएसपी नक्सलियों की ओर से मछली भात भोज किए जाने की सूचना पर दल-बल के साथ गांव पहुंचे थे। पुलिस को देखते ही नक्सलियों ने फायरिंग शुरू कर दी थी। इसी दौरान एसपीओ व एएसपी के बॉडीगॉर्ड शहीद हुए थे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *